पटना [जेएनएन]। बिहार में एनडीए का ताबड़तोड़ चुनावी सभाएं जारी हैं। इसी क्रम में रविवार को ए​क बार फिर बिहार के सीएम नीतीश कुमार, केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान व डिप्टी सीएम सुशील मोदी एक साथ चुनावी दौरे पर निकले। उन्होंने बांका व अररिया में जनता को संबोधित किया तथा महागठबंधन नेताओं पर हमला किया। एनडीए नेताओं ने जदयू, बीजेपी और लोजपा प्रत्याशियों को जिताने की अपील की तथा पीएम नरेंद्र मोदी की प्रशंसा की। सीएम नीतीश कुमार ने बिना नाम लिये लालू फैमिली पर भी तंज कसा और कहा कि कुछ लोग बिना मेहनत के ही धन कमाना चाहते हैं। 

सीएम नीतीश कुमार ने कहा

बांका में सीएम नीतीश कुमार ने अंबेडकर को नमन किया और कहा कि हम काम में विश्वास करते हैं। कुछ लोग समाज को विवादित करना चाहते हैं। एकजुटता से ही विकास होता है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ बड़ा काम हुआ है। आयुष्मान और उज्ववला गरीबों के लिए वरदान है। कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग 72 हजार देने की घोषणा कर ठगना चाहते हैं। 

उन्होंने कहा कि बरौनी रिफाइनरी की क्षमता को बढ़ाया गया। अनेक कार्यों में केंद्र सरकाए का सहयोग मिला है। दलित और मुस्लिम बच्चों को स्कूल से जोड़ा गया। महिलाओं को आरक्षण दिया गया गया। उन्होंने कहा कि बांका में सभी सुविधाओं का विस्तार किया गया है। बांका में पहले 72 स्कूल थे, आज इसकी संख्या 134 हो गई है। यहां का उन्नयन कार्यक्रम की जितनी प्रशंसा की जाए, कम होगी। 

उन्होंने कहा कि हर घर नल जल का कार्य 2020 तक पूरा कर लिया जाएगा। बापू जयंती तक हर घर में शौचालय होगा। वृद्धावस्था पेंशन सभी को मिलेगा। महिलाओं के कहने पर शराबबंदी लागू की गई। दारूबाज लोग भ्रमित करें तो उसकी बातों में नहीं आएं। समाज सुधार की बात लोग नहीं करते। उन्होंने लालू फैमिली पर निशाना साधते हुए कहा कि कुछ लोग सत्ता हासिल कर माल कमाना चाहते हैं। बिना काम का धन कमाना धन अर्जि करना चाहते हैं, जो पाप है। 

उधर भागलपुर के नवगछिया स्थित नारायणपुर के नागर उच्च विद्यालय पहाड़पुर में रविवार को अपनी चुनावी सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने देश का मनोबल बढ़ाया है। आतंकवाद के खिलाफ बड़ा काम किया है। आयुष्मान और उज्जवला योजना की शुरुआत कर गरीबों की चिंता दूर की है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां भागलपुर लोकसभा के जदयू प्रत्याशी अजय मंडल के लिए समर्थन और सहयोग मांगे। उन्‍होंने मैंने समाज के हर तबके का न्याय के साथ विकास किया। पहले महिलाएं घरों से निकल नहीं पाती थीं। आज समूह में निकलकर क्षेत्र के विकास में सहयोग कर रही हैं। आरक्षण मिलने से महिलाओं में चेतना आ गई है।

उन्‍होंने दलित और मुस्लिम बच्चों को स्कूल से जोड़ा गया। साइकिल और पोशाक मिलने से गांव-गांव की बेटियां स्कूल जाने लगीं। बिहार की सड़कें चकाचक हो गईं। भागलपुर में जल्द ही विक्रमशिला सेतु के समानांतर फोरलेन पुल बनेगा। सात निश्चय योजना से गांव और टोलों का कायाकल्प हो गया। पहले अंधेरे में रहना पड़ता था। अब घर-घर बिजली आ गई, लालटेन की जरूरत खत्म हो गई। सभी पुराने बिजली तार बदले जा रहे हैं। गांधी जयंती से पहले  हर घर में शौचालय होगा। सभी वर्ग के लोगों को वृद्धा पेंशन और किसानों को सम्मान योजना के तहत 6000 रुपए देने की शुरुआत की गई है। किसानों के लिए फसल सहायता योजना की शुरू की जाएगी। बरौनी रिफाइनरी की क्षमता बढ़ाई गई और बंद पड़े खाद कारखाने  खोले गए हैं। 

वहीं पूर्णिया में नीतीश कुमार ने टीकापट्टी हाई स्कूल मैदान में रविवार को जदयू प्रत्याशी संतोष कुमार कुशवाहा के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी ने दुनिया में भारत का नाम रौशन किया है। उन्हें फिर से प्रधानमंत्री बनाना है। उन्होंने कहा कि क्रांतिकारियों की पावन धरती टीकापट्टी आजतक उनसे छिपी रही। इस क्रांतिकारी धरती को नमन करते हुए उन्होंने इसके विकास के लिए चुनाव के बाद कदम उठाने की बात कही। उन्होंने विकास योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि राजग के शासनकाल में लड़कियां व महिलाएं काफी आगे निकल गई हैं। पंचायती राज में 50 परसेंट आरक्षण के प्रावधान का यह प्रभाव दिख रहा है कि यहां की एक अति पिछड़ा वर्ग की मुखिया शांति देवी अपनी समस्या लेकर उनसे सीधे मिल रही हैं। इसे कहते हैं विकास। कहा कि उनके 13 साल के शासन की तुलना करके देखिए, कितना अंतर आया है। यहां हर वर्ग के लोगों को समुचित भागीदारी देते हुए समाज में सम्मान के साथ जीने का अधिकार दिया गया है। शिक्षा के क्षेत्र में अभूतपूर्व क्रांति आई है। 

रामविलास पासवान बोले 

उधर कटिहार में केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि बहुत दिनों के बाद केंद्र में एनडीए की सरकार बनी है। 36 हजार करोड़ से पटना में मेट्रो रेल सेवा की शुरुआत की जाएगी। बिहार में हर गरीब को 18 किलो चीनी दी जाएगी। हर घर में बिजली औए शौचालय बनाए जाएंगे। 50 करोड़ लोगों को देश में इलाज की व्यवस्था फ्री की गई है। गरीबों को बैंक से जोड़ा जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि देश के हर बैंक में एक-एक दलित और अनुसूचित को रोजगार के लिए ऋण दिया जा रहा है। उन्‍हाेंने तंज कसते हुए कहा कि उच्च जाति को आरक्षण दिया गया तो महागठबंधन को दर्द होने लगा। जातिवाद की लड़ाई एनडीए नहीं करता है। देश के विकास के लिए एनडीए की सरकार बनाइए। 

फुलकाहा स्थित कुनकुन देवी प्लस टू उच्च विद्यालय व कुर्साकांटा मध्य विद्यालय मैदान में रविवार को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि 1989 में मंडल कमीशन वीपी सिंह ने लागू किया था। वे क्षत्रिय थे। उन्होंने कहा कि वे उनकी सरकार में कल्याण मंत्री थे। बिहार से वे अकेले मंत्री थे। उस समय लालू प्रसाद यादव वीपी सिंह के विरोधी देवीलाल और चंद्रशेखर सिंह की गोद में बैठे हुए थे। आज उसका श्रेय मंडल विरोधी ले रहे हैं जो बेइमानी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने संविधान के निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर की तस्वीर संविधान सभा में नहीं लगाई, जबकि एक-एक खानदान की तीन-तीन तस्वीरें वहां थीं। मोतीलाल नेहरू, जवारहर लाल नेहरू व इंदिरा गांधी की तस्वीर वहां थी। वीपी सिंह ने वहां पर बाबा साहेब की तस्वीर लगवाई। वहीं नरेंद्र मोदी ने वहां पर बाबा साहेब की पांच-पांच जगह तस्वीरें लगाईं। महू में जहां अंबेडकर का जन्म हुआ था, वहां कई सौ करोड़ रुपये की जमीन खरीदकर राष्ट्रीय स्मारक बनवाया गया है। लंदन में जहां वे पढ़ते थे, वहां भी अंतरराष्ट्रीय स्मारक बनवाया गया है। उनके अंत्येष्टि स्थल पर अंतरराष्ट्रीय स्मारक निर्माणाधीन है। दलित एक्ट के कुछ प्रावधानों को सुप्रीम कोर्ट ने खत्म कर दिया था। हमने आवाज उठाई तो मोदीजी ने कैबिनेट में पारित करके उस कानून को फिर बनाया है। 

सुशील कुमार मोदी बोले

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि वर्ष 2022 तक राज्य के हर गरीब को पक्का घर होगा। बिजली के मुद्दे पर चुनाव जिताएं। उन्‍होंने कहा कि एनडीए ने 7 राजपूत, 3 भूमिहार, 5 यादवों को टिकट दिया है। उन्‍होंने कहा कि बांका में पुतुल कुमारी को नरेंद्र मोदी के सम्मान में बैठ जाना चाहिए। नरेंद्र मोदी को पीएम बनाइए। 

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप