भागलपुर [जेएनएन]। जनवरी से भागलपुर-गोड्डा रेल मार्ग से जुड़ जाएगा। हंसडीहा-गोड्डा के बीच 32 किमी में 16 किमी हसंडीहा-पौड़ेयाहाट तक रेल लाइन बिछा दी गई है। दिसंबर तक पौड़ेयाहाट-गोड्डा तक ट्रैक का काम पूरा कर लिया जाएगा। अगले महीने मुख्य संरक्षा आयुक्त (सीआरएस) हसंडीहा-पौड़ेयाहाट के बीच ट्रेन चलाकर नई लाइन की जांच करेंगे। सीआरएस की रिपोर्ट के बाद पहले चरण में भागलपुर से पौड़ेयाहाट तक ट्रेनें चलने लगेंगी। सोमवार को हसंडीहा-पौड़ेयाहाट सीनियर सेक्शन इंजीनियर हलदर कुमार और पीडब्ल्यूआइ आरके सिंह ने ट्रॉली से नई लाइन की जांच की। जांच के दौरान किसी तरह की कमियां नहीं मिली। इस जांच के बाद जोन और मंडल के वरीय अधिकारी निरीक्षण करेंगे। इनकी रिपोर्ट के बाद सीआरएस जांच होगा।

हसंडीहा-पौड़ेयाहाट के बीच एक हॉल्ट

अभी हसंडीहा-पौड़ेयाहाट के बीच एक हॉल्ट ही रहेगा। जरूरत और मांग के अनुसार हॉल्ट की संख्या बढ़ सकती है। पहाड़ी इलाका होने के कारण आसपास आबादी नहीं है।

60 किलो भार की बिछाई गई पटरियां

नई लाइन पर 60 किलो भार का ट्रैक बिछाया गया है। रेलवे की सबसे आधुनिक ट्रैक का इस्तेमाल किया गया है। लाइन पर परिचालन शुरू होने के बाद यात्रियों को सुविधा होगी। 

Posted By: Dilip Shukla