भागलपुर (जेएनएन)। शहर के दक्षिणी क्षेत्र में वारसलीगंज में भाजपा के जिला उपाध्यक्ष संतोष कुमार के आवास से उज्जवला योजना का 37 सिलिंडर बरामद किया गया है। संतोष पूर्व में वार्ड पार्षद थे। सिलिंडर को जब्त कर लिया गया है। प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी सीबी सिंह को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया गया है। जिला आपूर्ति पदाधिकारी आलोक कुमार सिन्हा ने बताया कि पूर्व पार्षद संतोष, वेंडर बब्लू राय और केसी इंडेन के प्रोपराइटर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जा रही है।

सदर अनुमंडल पदाधिकारी आशीष नारायण ने बताया कि गुप्त सूचना के आधार पर वार्ड-51 वारसलीगंज में पूर्व पार्षद के घर पर छापेमारी की गई। वहां 37 सिलिंडर भरा हुआ पाया गया। ये सभी सिलिंडर केसी इंडेन गैस एजेंसी का है। छापेमारी में इंडेन के एरिया सेल्स मैनेजर विपिन मिंज को भी बुलाया गया था। एसडीओ ने बताया कि जांच के क्रम में यह जानकारी मिली कि वेंडर बब्लू राय ने रात में सिलिंडर को पूर्व पार्षद के घर पर रख दिया था। एसडीओ ने कहा कि प्रथम दृष्टया अवैध भंडारण और कालाबाजारी के उद्देश्य से सिलिंडर रखना प्रतीत होता है। डीएसओ ने कहा कि गोदाम के अलावा कहीं भी एक सौ किलो से अधिक एलपीजी गैस नहीं रखा जा सकता है। पेट्रोलियम और गैस से संबंधित एक्ट का उल्लंघन माना गया है। सिलिंडर जांच में नाथनगर के एमओ अतुल कुमार और शाहकुंड के एमओ विभूति कुमार भी थे।

संतोष कुमार

उधर, पूर्व वार्ड पार्षद संतोष कुमार ने कहा है कि बीती रात वेंडर बब्लू राय ने अधिक लेट होने के नाम पर उनसे सिलिंडर रखने का आग्रह किया था। वेंडर का कहना था कि कल इस क्षेञ में उज्ज्वला योजना के तहत सिलिंडर बांटा जाएगा। सभी 37 लाभुक इसी मोहल्ले के थे। जिसका कागजात बब्लू के पास था। संतोष ने कहा कि रात हो जाने के कारण मैंने सिलिंडर को घर के गेट के पास सीढ़ी के ही नीचे रख देने को कह दिया। कहा गया कि सुबह वितरण किया जाएगा। संतोष ने कहा कि राजनीति साजिश के तहत उन्हें बदनाम करने के लिए फंसा गया है। उज्ज्वला योजना के जिन लाभुकों के सिलिंडर देना था, उनके कागजात भी एडीओ को दिखाया गया है। इस बीच एसडीओ आशीष नारायण ने कहा कि गुप्त सूचना पर छापेमारी की गई थी। 37 सिलिंडर जब्त कर कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस