नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Volvo Cars ने भारत में स्वीडन के एम्बेस्डर क्लास मोलिन को Volvo S90 T8 प्लग-इन हाइब्रिड कार की चाबी सौंपी है। यह कार 2025 तक वैश्विक सड़कों पर एक लाख इलेक्ट्रिफाइड वोल्वो कारों को लगाने की कंपनी की सस्टेनेबिलिटी विजन का प्रतिबिंब है। नवाचार के लिए उपयुक्त परिस्थितिकी तंत्र की उपस्थिति के आधार पर देशों की रैंकिंग में ग्लोबन इनोवेशन इंडेक्स के 2019 एडिशन में स्वीडन दूसरे स्थान पर मौजूद है।

भारत में स्वीडन के एम्बेस्डर, क्लास मोलिन ने कहा, "स्वीडन हमेशा नवाचार के मामले में सबसे आगे रहा है और यह कार इस बात का उदाहरण देती है। हम अपने बेड़े में वोल्वो एस90 को शामिल करके और सस्टेनेबल मोबिलिटी में योगदान करने पर गर्व महसूस कर रहे हैं।

वोल्वो कार इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर, चार्ल्स फ्रम्प ने कहा, "वोल्वो कार और स्वीडिश सरकार ने हमेशा सुरक्षा और स्थिरता में तकनीकी नवाचारों की दिशा में काम किया है और हम बेहद खुश हैं कि एम्बेस्डर मोलिन ने अपनी आधिकारिक कार के रूप में S90 T8 को चुना है।"

Volvo S90 T8 में टर्बोचार्ज्ड और सुपरचार्ज्ड 2.0 लीटर, फोर-सिलेंडर इंजन दिया गया है जो 400 hp की पावर और 640 nm का टॉर्क जनरेट करता है। इसके अलावा इसमें दी गई इलेक्ट्रिक मोटर 87 hp तक की अतिरिक्त पावर देती है, जो कि रियर एक्सल में लगी है। इंजन 8-स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन से लैस है।

ये भी पढ़ें:

Ducati Diavel 1260 S Review: सुपरस्पोर्ट, नेकेड रोडस्टर और क्रूजर की जुगलबंदी

Hyundai लॉन्च करने जा रही है अपनी नई सेडान, नाम होगा AURA

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप