नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। Toyota Motor Corporation और Suzuki Motor Corporation ने नए क्षेत्रों में ठोस सहयोग पर विचार शुरू करने के लिए अपने समझौते की घोषणा की है। फरवरी 2017 में व्यापार साझेदारी के लिए MOU पर हस्ताक्षर करने के बाद से दो जापानी कंपनियां सहयोग के विवरण पर विचार कर रही हैं। कंपनियों ने अलग-अलग बाजारों को ध्यान में रखते हुए सहयोग के व्यापक क्षेत्रों का विस्तार किया है। यह पहले से ही पता था कि Maruti Suzuki Vitara Brezza और Baleno को क्रॉस-बैज किया जाएगा और Toyota मामूली डिजाइन में बदलाव करने के बाद अपने नेटवर्क के माध्यम से उन्हें रिटेल करेगी और बदले में Suzuki बैज वाली Corolla को Maruti Suzuki बेचेगी।

कंपनी ने यह भी साझा किया है कि Maruti Suzuki दो कॉम्पैक्ट वाहनों की भी आपूर्ति करेगी, जिन्हें Suzuki के ग्लोबल C और Heartec प्लेटफार्मों पर विकसित किया जाएगा जो Ciaz और Ertiga होंगे। हालांकि, Toyota अफ्रीकी बाजार के लिए Vitara Brezza और Baleno के साथ Ciaz और Ertiga को आउटसोर्स कर रही है, लेकिन कंपनी भारतीय बाजार के लिए एक समान लेकिन नए सी-सेगमेंट MPV को विकसित करने के लिए Suzuki की विशेषज्ञता और प्लेटफार्मों का उपयोग करेगी। इसका मतलब यह कि हमारे बाजार के लिए टोयोटा का अर्टिगा और सियाज का वर्जन सिर्फ क्रॉस-बैजिंग तक ही सीमित नहीं होगा, लेकिन साथ ही कुछ पर्याप्त संशोधनों को भी देखा जा सकता है।

टोयोटा अपने कर्नाटक प्लांट में 2022 में विटारा ब्रेजा के वर्जन का उत्पादन शुरू करेगी, जबकि टोयोटा बलेनो 2019 में ही बिक्री के लिए उपलब्ध की जाएगी। हालांकि, टोयोटा-सुजुकी समझौता वाहनों और प्लेटफार्मों को साझा करने से परे होगा। कंपनी मारुति सुजुकी को हाइब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन (HEV) टेक्नोलॉजी की आपूर्ति HEV सिस्टम, इंजन और बैटरी की स्थानीय खरीद के माध्यम से करेगी।

यह भी पढ़ें:

BMW G 310 GS Test Ride Review: प्रीमीयम ब्रांड की किफायती एडवेंचर बाइक

GoZero Mobility भारत में करने जा रही है एंट्री, लॉन्च करेगी इलेक्ट्रिक बाइक

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप