नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। Maruti Suzuki अपनी गाड़ियों से हमारे लिए डीजल इंजन को दूर कर रही है। पिछले साल ही कंपनी के चेयरमैन R.C भार्गव ने कहा था कि वह अप्रैल 2020 से डीजल कार के कारोबार से दूर हो जाएंगे, जिसमें भारत स्टेज 6 (BS6) उत्सर्जन मानकों को देशभर में लागू किया जाना है। खैर, कंपनी ने भी अपनी 2020 Maruti Suzuki Vitara Brezza फेसलिफ्ट और 2020 S-Cross को सिर्फ पेट्रोल इंजन के साथ ही लॉन्च किया है। और, अब Dzire सबकॉम्पैक्ट सेडान को भी कंपनी ने फेसलिफ्ट अवतार में सिर्फ पेट्रोल इंजन के साथ ही लॉन्च किया है।

छोटी कारों में मिलने वाला डीजल BS6 इंजन इतना महंगा नहीं होगा, जबकि सबकॉम्पैक्ट मॉडल्स इस इंजन के साथ महंगे हो सकते हैं। इसमें बड़ा कारण यही है कि फिएट ने प्रोडक्शन लाइन से अपने 1.3 लीटर मल्टीजेट डीजल इंजन को बंद कर दिया है। यह वही मल्टीजेट इंजन है जो कि आप ज्यादातर मारुति की सबकॉम्पैक्ट कारों में देखते हैं, जिसमें Dzire भी शामिल है। इस इंजन को 73 bhp और 200 Nm टॉर्क के लिए डीट्यून किया गया था। फिएट ने अपने कारखाने में आखिरी इंजन 23 जनवरी को रोलआउट किया था और अब तक कंपनी इसकी 800,050 यूनिट्स बना चुकी है। सितंबर 2017 में फिएट ने घोषणा की थी कि वह अपने 1.3 लीटर इंजन को BS6 मानकों के अनुरूप नहीं करेगी क्योंकि इसमें लागत ज्यादा होगी।

खैर, मारुति सुजुकी इस वक्त अपना नया 1.5 लीटर, फोर-सिलेंडर डीजल इंजन विकसित कर रही है, जो कि Ciaz और Ertiga में देखने को मिलते हैं। हालांकि, कंपनी की ओर से इस बारे में किसी तरह की कोई जानकारी नहीं मिल पाई है कि वह इसे BS6 मानकों के अनुरूप करेगी या नहीं। कंपनी ने घोषणा की थी कि वह ग्राहकों की डिमांड को देखते हुए BS6 डीजल इंजन को इन-हाउस विकसित करेगी, जो कि चार-मीटर से लंबी कारों में देगी। फिलहाल कंपनी की 4 मीटर से छोटी कारों में डीजल इंजन उतारने की कोई योजना नहीं है। 

Posted By: Ankit Dubey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस