नई दिल्ली (ऑटो डेस्क)। मारुति सुजुकी गुड़गांव स्थित अपनी फैक्ट्री को हरियाणा में किसी दूसरी जगह पर शिफ्ट करने की योजना बना रही है। मौजूदा प्लांट गुड़गांव में भीड़भाड़ वाली जगह पर स्थित है। कंपनी के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि नए प्लांट को फुल ऑपरेशनल होने में 4-5 साल का समय लगेगा।

मारुति ने गुड़गांव स्थित फैक्ट्री से अपनी पहली कार मारुति 800 को रोलआउट किया था। इसके बाद कंपनी भारत की सबसे बड़ी कार कंपनी बन गई। अब भारतीय बाजार में बिकने वाली हर दूसरी कार मारुति सुजुकी की है।

1200-1400 एकड़ जमीन की जरूरत

मारुति नया प्लांट लगाने की लिए अपने वेंडर बेल्ट के पास ही किसी जगह की तलाश में है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंपनी नए प्लांट के लिए गुड़गांव के पास सोहना में जगह की तलाश कर रही है। कंपनी ने हरियाणा सरकार से इसके लिए 1200-1400 एकड़ जमीन की मांग रिक्वेस्ट की है। हालांकि, सरकार की तरफ से इस बारे में अभी तक कोई फैसला नहीं किया है।

योजना के मुताबिक, नए प्लांट के लिए केवल मारुति निवेश करेगी। कंपनी की सहयोगी कंपनी सुजुकी के पास गुजरात में कंपनी के विस्तार की जिम्मेदारी है। इस योजना के बाद मारुति अपने मौजूदा मॉडल्स की कैपेसिटी को भी बढ़ा सकेगी। वहीं सुजुकी अपने रिसोर्स को इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड व्हीकल समेत नए प्रोडक्ट के लिए इस्तेमाल कर सकती है।

मारुति नए प्लांट में 3-4 असेंबली लाइन बनाने की योजना बना रही है। इसके लिए कंपनी को 10-15 हजार करोड़ रुपये के निवेश की जरूरत है। गुड़गांव स्थित प्लांट में कंपनी अभी सालाना 6-7 लाख यूनिट का प्रोडक्शन किया जा रहा है।

मामले की जानकारी रखने वाले एक शख्स ने बताया कि भीड़भाड़ की वजह से गुड़गांव प्लांट के आसपास रहने वाले लोगों की तरफ से कई बार कंपनी शिफ्ट करने की मांग की गई है। ट्रकों की आवाजाही भी एक बड़ा मुद्दा है। इसलिए कंपनी गुड़गांव के पास की कोई दूसरी जगह देख रही है ताकि वेंडर और कर्मचारियों के लिए किसी प्रकार की दिक्कतें ना आएं।

Posted By: Pramod Kumar