नई दिल्ली, ब्रांड डेस्क। ड्राइविंग एक्सपीरियंस सुरक्षित और शानदार हो यह चाह हर ड्राइवर की होती है। यही वजह है कि आज कारें सुरक्षित होने के साथ-साथ स्मार्ट हैं-जैसे Hyundai की कार। Hyundai ने हमेशा ही सेफ्टी को प्राथमिकता दी है, बात चाहे इनके हैचबैक की हो या फिर सेडान और SUV की। कंपनी ने इसी साल खूबसूरत डिजाइन और फ्यूचरिस्टिक टेक्नोलॉजी के साथ आने वाली 4th जेनरेशन नई Hyundai TUCSON लॉन्च की है। यह एक ऐसी SUV है, जिसमें आपको शानदार फीचर्स मिलेंगे। इसमें ऐसे कई फीचर्स हैं, जो इसे SUV सेगमेंट में बेंचमार्क स्थापित करने में मदद करते हैं। लेवल 2 ADAS (Advanced Driver Assistance System) उन्हीं फीचर में से एक है।

Hyundai TUCSON अपनी कैटेगरी में भारत में सबसे सुरक्षित SUV है। उसकी एक सबसे बड़ी वजह लेवल 2 ADAS है, जो स्मार्ट है और ज्यादा सेफ्टी प्रदान करता है। दरअसल, ADAS इलेक्ट्रॉनिक टेक्नोलॉजी का एक ऐसा ग्रुप है, जो ड्राइवर को पार्किंग फंक्शन और ड्राइविंग में मदद करता है। यह किसी भी तरह की होने वाली दुर्घटना को कम करता है। गाड़ी में इस टेक्नोलॉजी के होने का मतलब ड्राइवर, पैसेंजर और पैदल यात्रियों को ज्यादा सुरक्षा मिलेगी।

यहां नई Hyundai TUCSON ने लेवल 2 ADAS के साथ एडवांस सेफ्टी फीचर्स के कॉम्बिनेशन की मदद से एक नया सेफ्टी बेंचमार्क स्थापित किया है। यह अपने सेगमेंट में टेक्नोलॉजी में सबसे ऊपर है। इस SUV की टेक्नोलॉजी इतनी एडवांस और स्मार्ट है कि कैमरा और रेडार सेंसर की मदद से यह रोड पर कार, साइकिलिस्ट और पैदल यात्रियों को डिटेक्ट कर सकता है। इस तरह इससे ड्राइवर को एक पूर्ण सुरक्षा मिलती है।

नई Hyundai TUCSON में 19 Hyundai SmartSense (ADAS) फीचर्स दिए गए हैं, जिसमें ड्राइविंग सुविधा से लेकर ड्राइविंग सेफ्टी और पार्किंग सेफ्टी शामिल हैं।

Driving Convenience Functions -

Smart Cruise Control with Stop & Go - यह फीचर ड्राइवर को उनकी स्पीड और उनके वाहन के बीच उनकी चयनित दूरी को प्रोग्राम करने की अनुमति देता है।

Lane Following Assist - यह लेन में ड्राइव करने के लिए स्टीयरिंग व्हील को ऑटोमैटिक तरीके से ऑपरेट करता है।

Safe High Beam Assist - यह फीचर दूसरी दिशा से आने वाले वाहनों को पहचानता है और रात में ऑटोमैटिक तरीके से हाई और लो बीम के बीच स्विच करता है।

Leading Vehicle Departure Alert - वाहन के रुकने पर ड्राइवर को सामने वाले वाहन के चलने के बारे में सचेत करता है।

Parking Safety Functions -

Rear Cross-Traffic Collision Warning - पार्किंग के दौरान रिवर्स में अगर कोई वाहन बाएं या दाएं से आ रहा है तो यह फीचर चालक को सूचित करता है।

Rear Cross-Traffic Collision-Avoidance Assist - यह एक हाई टेक सेफ्टी सिस्टम है जो रिवर्स करते समय आने वाले वाहन के बारे में बताता है। यह फीचर कम विजिबिटी में भी बैक लेने पर पीछे की टक्कर से बचने और रोकने में मदद करता है।

Surround View Monitor - यह एक पार्किंग सपोर्ट फंक्शन है जो वाहन के आसपास के क्षेत्र को दिखाता है।

Driving Safety Functions -

Forward Collision Warning - यह फीचर आपके वाहन के आगे रुके हुए या धीरे-धीरे चलने वाले वाहनों का पता लगाकर आपको शीघ्र टक्कर की चेतावनी देता है।

Forward Collision-Avoidance Assist- Car - यह एक एडवांस फीचर है जिसे आगे की टक्कर के प्रभाव को रोकने या कम करने के लिए डिजाइन किया गया है।

Forward Collision-Avoidance Assist- Pedestrian - यह वाहन के सामने पैदल यात्री के साथ संभावित टक्कर का पता लगाता है और चालक को उनकी उपस्थिति के लिए सचेत करता है।

Forward Collision-Avoidance Assist- Cycle - यह वाहन के सामने साइकिल के साथ संभावित टक्कर का पता लगाता है और चालक को उनकी उपस्थिति के लिए सचेत करता है।

Forward Collision-Avoidance Assist- Junction Turning - वाहन चलाते समय यदि किसी चौराहे पर मुड़ते हुए आने वाले वाहन से टकराने का खतरा होता है, तो यह फंक्शन ऑटोमेटिव तरीके से आपातकालीन ब्रेकिंग में सहायता करता है।

Blind-Spot Collision Warning - यह आपको सतर्क करेगा जब कोई वाहन निकटवर्ती लेन में हाई स्पीड से आ रहा है।

Blind-Spot Collision- Avoidance Assist - इसे ड्राइवर के ब्लाइंड स्पॉट क्षेत्र में आने वाले वाहनों का पता लगाने और निगरानी करने में मदद करने के लिए डिजाइन किया गया है।

Lane Keeping Assist - वाहन के आगे लेन चिह्नों का पता लगाने और वाहन की लेन में स्थिति की निगरानी करने के लिए यह फीचर काम करता है।

Lane Departure Warning - यह एक ऐसा फीचर है जो चालक को एक चेतावनी प्रदान करता है यदि वह ड्राइविंग के दौरान लेन को छोड़ता है।

Driver Attention Warning - यह फीचर ड्राइवर के ड्राइविंग पैटर्न या आदतों के आधार पर ब्रेक का सुझाव देता है। यह झपकी लेते समय चालक की आंख और सिर की गतिविधियों पर नजर रखता है।

Blind-Spot View Monitor - यह कुछ ब्लाइंड एरिया सहित ड्राइवर और यात्री के साइड रियर व्यू एरिया को प्रदर्शित करता है जिसे RVM से नहीं देखा जा सकता है।

Safe Exit Warning - सेफ एग्जिट असिस्ट सिस्टम यह पता लगाने के लिए रडार का उपयोग करता है कि पीछे से कोई वाहन तेजी से आ रहा है या नहीं।

(Note - यह आर्टिकल ब्रांड डेस्‍क द्वारा लिखा गया है।)

लेखक- शक्ति सिंह

Edited By: Sonali Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट