नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। कोरोनावायरस ने भारत में ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को बहुत बुरी तरीके से प्रभावित किया है। अब Honda Motorcycle and Scooter India ने मई, 2020 महज 54,000 टू-व्हीलर्स को डिस्पेच किया है। अगर मई, 2019 में बेची गई 7,06,365 यूनिट्स से इसकी तुलना की जाए तो कंपनी की बिक्री में 92.35 फीसद की गिरावट आई है। वहीं कंपनी ने बीते माह 820 यूनिट्स का निर्यात भी किया था, जिसको मिलाकर कुल बिक्री 54,820 यूनिट्स की हुई है। Honda ने यह भी घोषणा की है कि उसने मई, 2020 में 1,15,000 यूनिट्स रिटेल की हैं और 10.5 लाख से ज्यादा टू-व्हीलर्स की सर्विस की है।

Honda Motorcycle and Scooter India के सेल्स और मार्केटिंग डायरेक्टर Yadvinder Singh Guleria ने कहा कि "मई, 2020 से व्यापार की धीरे-धीरे शुरुआत हुई है, क्योंकि अप्रैल, 2020 में कंपनी ने शून्य डिस्पेच किया था। अभी तक होंडा के 70 फीसद डीलरशिप ने काम शुरू कर दिया है। पूरी तरह से उपलब्ध 6 बीएस6 प्रोडक्ट्स के साथ हमारा नेटवर्क मई, 2020 में 1.15 लाख यूनिट्स रिटेल करने में कामयाब रहा। इस नई शुरुआत में Honda डीलरशिप डिजिटल कॉन्टेक्टलेस ग्राहक गतिविधियों को ज्यादा प्रमोट कर रहे हैं। इस शुरुआत से हमे पता चल रहा है कि 80 फीसद होंडा में रुचि रखने वाले अपने फेवरेट होंडा टू-व्हीलर को लॉकडाउन खुलने के तीन महीने में खरीदने का प्लान कर रहे हैं। हालांकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए ज्यादातर पब्लिक ट्रांसपोर्ट का रोजाना इस्तेमाल करने की ज्यादा टू-व्हीलर खरीदने पर ज्यादा जो दे रहे हैं।"

करीब 70 फीसद से ज्यादा Honda डीलर्स ने दोबारा सेल्स और सर्विस का संचालन बीते माह से शुरू कर दिया है और सभी 308 सप्लायर्स ने भी प्रोडक्शन शुरू कर दिया है। Honda ने अपने कर्नाटक के नर्सापुरा प्लांट में असेंबिलिंग का काम भी 25 मई से शुरू कर दिया है। वहीं अन्य प्लांट में भी जून की शुरुआत में काम शुरू हो जाएगा। 

Posted By: Sajan Chauhan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस