नई दिल्ली,ऑटो डेस्क। Kapil Sharma Filed case Against DC: डीसी डिजाइन के मालिक और संस्थापक दिलीप छाबड़िया को दिसंबर 2020 में मुंबई सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किया गया था। जिन पर जालसाजी और धोखाधड़ी का आरोप था। इस मामले पर अब एक नया मोड़ आ गया है, बता दें, लोकप्रिय कॉमेडियन कपिल शर्मा ने CIU का दरवाजा खटखटाया और छाबड़िया के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

कपिल शर्मा के अनुसार दिलीप छाबड़िया ने 2017 में एक वैनिटी वैन को डिजाइन करने के लिए उनसे 5.7 करोड़ रुपये मांगे थे। हालांकि डिजाइनर ने कॉमेडियन को अंतिम प्रोडक्ट नहीं दिया। वहीं इस विषय पर डिफेंस वकील जो छाबड़िया का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं ने तर्क दिया "कि यह एक नागरिक विवाद है न कि आपराधिक मामला। कपिल शर्मा की वैनिटी वैन 90 प्रतिशत तैयार हो चुकी है, उन्होंने आगे कहा कि कपिल शर्मा ने वाहन के रंग और साथ ही कुछ अन्य चीजों को अंतिम रूप देने के लिए गैरेज का दौरा नहीं किया। जिस वजह से वाहन को अभी तक इन्हें नहीं सौंपा जा सका।"

इस मामले पर 7 जनवरी को सीआईयू ने कपिल शर्मा से संपर्क किया और छाबड़िया के खिलाफ उनका बयान दर्ज किया। बयान में कपिल शर्मा ने बताया कि "उन्होंने एक वैनिटी वैन के लिए 2017 में डीसी से संपर्क किया और मई 2017 और मई 2018 के बीच 5.3 करोड़ रुपये का भुगतान किया। जिस पर अभी तक कोई काम नहीं किया गया है। जब जुलाई 2018 में छाबड़िया से दोबारा संपर्क किया गया तो छाबड़िया फिर जीएसटी के रूप में अतिरिक्त 40 लाख रुपये मांग रहे थे। कपिल शर्मा ने जुलाई 2018 में 40 लाख रुपये का का भुगतान किया लेकिन उन्हें वाहन पर कोई प्रगति नहीं मिली।"

बताते चलें कि छाबड़िया ने वैन की डिलीवरी से पहले कपिल शर्मा से अतिरिक्त 60 लाख मांगे थे। जिस पर कॉमेडियन ने 2019 में नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल से संपर्क किया। जिसके बाद NCLT ने  छाबड़िया के खाते को फ्रीज कर दिया। तब डिजाइनर ने शर्मा को वाहन पार्क करने और कारखाने के परिसर में स्पेयर पार्ट्स रखने के लिए 12 लाख का बिल भेजा। बिल प्राप्त करने के बाद कपिल शर्मा ने मुंबई आर्थिक अपराध शाखा (EOW) से संपर्क किया और शिकायत दर्ज की। बता दें, यह मामला अलग से दर्ज किया गया है, और CIU इसकी भी जांच करेगा।

।सेव त्मंकरू क्ब् डिज़ाइनर दिलीप छाबड़िया गिरफ्ताररू केस के बारे में हम अब तक क्या जानते हैं

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021