Move to Jagran APP

Anand Mahindra Tweets Formula E: शुरू हो रही भारत की पहली 'फॉर्मूला-ई प्रिक्स', आनंद महिंद्रा ने जताई खुशी

Anand Mahindra Formula E Tweet हैदराबाद में देश का पहला फॉर्मूला ई रेस शुरू होने जा रहा है। इसे लेकर महिंद्रा एंड महिंद्रा के CEO आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर खुशी जताई है। बता दें कि ये रेस 11 फरवरी को होने वाली है। (जागरण ग्राफिक्स)

By Sonali SinghEdited By: Sonali SinghPublished: Fri, 03 Feb 2023 07:49 PM (IST)Updated: Fri, 03 Feb 2023 07:49 PM (IST)
Anand Mahindra Tweet about India's first Formula-E Prix Race

नई दिल्ली, ऑटो डेस्क। वाहन निर्माता महिंद्रा एंड महिंद्रा के अध्यक्ष आनंद महिंद्रा (Anand Mahindra) ट्विटर पर हमेशा एक्टिव रहते हैं। उनके शानदार ट्वीट हमेशा ही लोगों को पसंद आते हैं। इस बार उन्होंने हैदराबाद में आयोजित होने वाली भारत की पहली फॉर्मूला ई प्रिक्स के बारे में बात की है। उन्होंने इस रेस में प्रतिस्पर्धा करने वाली महिंद्रा रेसिंग टीम के बारे में अपना उत्साह जताया है।

लोगों से की अपील

उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि 8 साल बाद आखिरकार हमें अपनी होम रेस मिल गई। FIA Formula-E पहली बार भारत आ रहा है। इसके लिए उन्होंने तेलंगाना के मंत्री के टी रामा राव और शीर्षक प्रायोजक ग्रीनको का आभार व्यक्त किया है।

इसके साथ ही, आनंद महिंद्रा ने इसके बारे में अपना उत्साह साझा किया और भारत से उनकी टीम को 'बिलियन चीयर्स' करने का आग्रह किया।

क्या है Formula E?

Formula E कारों की एक रेसिंग है, जिसे आधिकारिक तौर पर एबीबी एफआईए (फेडरेशन इंटरनेशनेल डी ल'ऑटोमोबाइल) फॉर्मूला ई वर्ल्ड चैंपियनशिप के रूप में जाना जाता है। यह इलेक्ट्रिक कारों के लिए सिंगल-सीटर मोटर स्पोर्ट चैंपियनशिप है, जिसमें महिंद्रा एंड महिंद्रा की फॉर्मूला ई रेसिंग टीम हिस्सा लेने वाली है।

11 टीमें हो रहीं शामिल

हैदराबाद ई-प्रिक्स में भाग लेने वाले फॉर्मूला ई ड्राइवरों को पहले ही रेसिंग सर्किट का डिजिटल प्रारूप दिया जा चुका है। इसमें 11 टीमें और 22 ड्राइवर दुनिया के सबसे तेज स्ट्रीट सर्किट में व्हील-टू-व्हील रेसिंग करेंगे। ग्रीनको इसके टॉप प्रायोजक में से एक है और रेस की तैयारी लगभग पूरी कर ली गई है।

फॉर्मूला ई कारों का पहला जत्था हैदराबाद पहुंच गया है और रेसिंग के लिए सुरम्य हुसैन सागर झील के साथ-साथ स्ट्रीट सर्किट के आसपास के एरिया को चुना गया है। रेस में शामिल होने वाली कारों को हवाई अड्डे में एक खास स्थान पर पार्क किया गया है।

ये भी पढ़ें-

सनरूफ वाली कार से हो सकते हैं दुर्घटना के शिकार, मौज -मस्ती की तो कटेगा चालान

कार में म्यूजिक सिस्टम लगवाने से पहले रखें इन बातों का ख्याल, हो न जाएं ठगी के शिकार


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.