नई दिल्ली, अंकित दुबे। Kushaq, ये शब्द संस्किृत से लिया गया है, जिसका हिंदी में मतलब होता है राजा, महाराजा या कह सकते हो सम्राट। जो हुकूमत करते हैं,  मिड साइज एसयूवी सेगमेंट में इस गाड़ी की हुकूमत कितनी होगी ये तो बिक्री के आंकड़े आने वाले दिनों में आएंगे तो पता चल ही जाएगा। पर Kushaq की उस सेगमेंट में लड़ने की क्षमता कितनी है, जिसमें Hyundai Creta और Kia Seltos जैसी गाड़ी राज कर रही हैं, इस बारे में हम आपको जरूर विस्तार से इस रिव्यू में बता देंगे।

India 2.0 प्लान फॉक्सवैगन ग्रुप का जिसमें कंपनी ने भारी तौर पर निवेश किया है। इस निवेश के जरिए फॉक्सवैगन ग्रुप ने भारत में MQB-AO IN प्लेटफॉर्म उत्पन्न किया है, जिस पर Kushaq बनाई जा रही है। यह प्लेटफॉर्म लगभग पूरी तरह स्थानीय रूप से बनाया गया है ताकि गाड़ी की कीमतों को कम रखा जाए। इसी प्लेटफॉर्म पर फॉक्सवैगन की Taigun भी लॉन्च की जाएगी और इसके बाद दो नई गाड़ियां भी कंपनी इसी प्लेटफॉर्म पर उतारेगी। बता दें, इस नए प्लेटफॉर्म के साथ गाड़ी की मैन्युफैक्चरिंग 95% तक भारत में ही की जा रही है।

लुक्स और डिजाइन

ऑटो एक्स्पो 2020 में आपने स्कोडा का Vision IN कॉन्सेप्ट तो देखा ही होगा, जिसका डिजाइन आपको इस नई स्कोडा कुशाक में देखने को मिलेगा। दिखने में यह काफी आकर्षक एंड प्रीमियम नजर आ रही है। स्लीक हेडलैंप्स, सिग्नेचर स्कोडा फ्रंट ग्रिल, दमदार बॉनट लाइन्स और फॉग लैंप्स की पॉजिशन के साथ यह गाड़ी फ्रंट से काफी आक्रामक लगती है।

Skoda Kushaq को कंपनी ने तीन वेरिएंट्स Active, Ambition और Style में उतारा है। इसलिए साइड प्रोफाइल की बात करें तो Style टॉप-एंट वेरिएंट में कंपनी ने 17-इंच के व्हील्स दिए हैं, जबकि निचले दोनों वेरिएंट में कंपनी 16-इंच के व्हील्स ही मिलते हैं। रियर से भी दिखने में यह पूरी तरह एक टिपिकल SUVs लगती है। शार्क फिन एंटेना, बंपर और रियर LED टेललाइट्स का डिजाइन भी काफी बेहतर लगता है। हालांकि, रियर प्रोफाइल से इस गाड़ी के वेरिएंट के बारे में आप कुछ पता नहीं लगा पाएंगे। Skoda Kushaq की लंबाई 4,225 mm, चौड़ाई 1,760 mm, ऊंचाई 1,612 mm और जो कि सेगमेंट में सबसे ज्यादा व्हीलबेस 2,651 mm है। वहीं, इसका ग्राउंड क्लियरेंस 188mm है।

इंटीरियर

Skoda Kushaq के इंटीरियर में जैसे ही आप आते हैं वैसे ही डैशबोर्ड पर पियानो ब्लैक लक्स थीम के साथ सेंटर में टचस्क्रीन और टू-स्पोक स्टीयरिंग व्हील वाकई गाड़ी पर काफी बेहतर लगते हैं। डैशबोर्ड काफी क्लीन और प्रीमियम लगता है। हेक्सागॉनल क्रोम लाइन्ड वेंट्स के साथ डैशबोर्ड पर कई तरह के टेक्सचर्ड स्ट्रिप वाकई आपकी आंखों को काफी अच्छे लगते हैं। कुल मिलाकर केबिन का डिजाइन क्लीन और फंक्शनल है। केबिन हवादार लगता है और हर चीज जहां भी आप हाथ लगाओगे वो काफी ज्यादा प्रीमियम नजर आती हैं। हालांकि, कुछ-कुछ जगह आपको प्लास्टिक थोड़ी हल्की नजर आएगी।

Style वेरिएंट है तो इसमें कंपनी 10-इंच का हाई रेश्योल्यूशन टचस्क्रीन इन्फोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है जो वायरलेस एप्पल कारप्ले और एंड्रॉयड ऑटो के अलावा मिररलिंक के साथ आता है। निचले वेरिएंट्स में कंपनी 7 इंच का इन्फोटेनमेंट सिस्टम दे रही है। बता दें Kushaq में कुछ कनेक्टेड फीचर्स भी शामिल हैं जिसमें आप MyŠKODA app या फिर वेब पोर्टल के जरिए अपनी गाड़ी को कंट्रोल कर सकते हैं। व्हीकल हेल्थ रिपोर्ट देख सकते हैं, व्हीकल इन्फोर्मेशन और कार पार्किंग लोकेशन जैसी तमाम जानकारी हासिल कर सकते हैं।

इन्फोटेनमेंट सिस्टम के नीचे आपको वेंटिलेटेड सीट्स, हजार्ड लाइट्स, लॉक/अनलॉक और रिजनेरेटिव ब्रेकिंग सिस्टम के बटन्स मिल जाएंगे और उसके नीचे AC कंट्रोल करने का एक सिस्टम मिल जाता है जो पूरी तरह टच सेंस के साथ आता है। नीचे की ओर कंपनी ने सी-टाइप चार्जिंग पोर्ट्स दिए हैं जो कि मुझे लगता है कंपनी को एक नॉर्मल और एक सी-टाइप देने की जरूरत थी। अब इसके लिए हमेशा एक दो कनेक्टर्स आपको अपने साथ लेकर चलना पड़ेगा अगर आपके पास आपके स्मार्टफोन के लिए सी-टाइप कॉर्ड नहीं है। वायरलेस चार्जिंग इस सेगमेंट का एक हिस्सा बन चुका है इसलिए कंपनी ने Kushaq में भी वायरलेस चार्जिग का विकल्प दिया है। स्टोरेज स्पेस की बात करें तो दरवाजें, ग्लॉव बॉक्स, आर्म रेस्ट पर पर्याप्त स्टोरेज स्पेस मिलता है।

स्टीयरिंग व्हील की बात करें तो यह मुझे काफी अच्छा लगा है क्योंकि टू-स्पोक स्टीरियंग व्हील को काफी खूबसूरती से डिजाइन किया गया है और स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल्स भी इस गाड़ी पर काफी बेहतरीन लगते हैं। पर हां, जितना प्रीमियम आपको इसका स्टीयरिंग व्हील लगेगा उतना ही अटपटा इसका इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर लगेगा क्योंकि यहां कंपनी ने एनालॉग मीटर्स के साथ एक छोटी डिजिटल MID यूनिट दी है। यहां कंपनी इसके प्रीमियमनेस को बरकरार रखने के लिए फुली डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दे सकती थी। इतना ही नहीं कंपनी ने इस टॉप वेरिएंट में इलेक्ट्रिक एडजस्टेबल सीट्स भी नहीं दी जो कि देने की जरूरत थी।

सीट्स की बात करें तो फ्रंट और रियर दोनों में काफी बढ़िया सीटें मिलती हैं। काफी बेहतर कंफर्ट आपको इसमें मिल जाता है। व्हीलबेस लंबा होने के चलते रियर सीटों पर भी लेगरूम, हेडरूम और शोल्डर रूम में कोई समस्या नहीं दिखाई देती। थाई सपोर्ट भी काफी अच्छा है। पर अगर आपकी लंबाई 6 फीट से ज्यादा है तो जरूर थोड़ा सा कम लग सकता है। बूट स्पेस की बात करें तो यह सेगमेंट में सबसे कम 385 लीटर का मिलता है। स्कोडा का साउंड सिस्टम और एक इलेक्ट्रिक सनरूफ भी आपको इस Style वेरिएंट में मिलती है।

सेफ्टी फीचर्स की बात करें तो इसमें आपको एक्टिव और पैसिव सेफ्टी फीचर्स के तौर पर सभी पैसेंजर्स के लिए तीन-प्वाइंट सीटबेल्ट और ESC सभी वेरिएंट्स में शामिल हैं। अतिरिक्त सेफ्टी फीचर्स के तौर पर कंपनी ने इसमें 6 एयरबैग्स, हिल-होल्ड कंट्रोल, टायर प्रेशर मॉनिटरिंग जैसे फीचर्स भी शामिल किए हैं।

इंजन और परफॉर्मेंस

इंजन विकल्प की बात करें तो कंपनी ने इसमें दो इंजन ऑप्शन दिए हैं और दोनों ही पावरफुल और एफिशियंट हैं। इसमें एक 115PS और 178Nm वाला 1.0 लीटर का TSI इंजन मिलता है जो 6-स्पीड मैनुअल और 6-स्पीड ऑटोमैटि के साथ आता है। वहीं, कंपनी इसमें 150 PS और 250 Nm टॉर्क वाला 1.5 लीटर का पेट्रोल इंजन भी दे रही है जो 6-स्पीड मैनुअल और 7स्पीड DSG गियरबॉक्स के साथ आता है। हमने अपनी इस ड्राइव के दौरान 1.5 लीटर TSI पेट्रोल इंजन के साथ 7-स्पीड DSG गियरबॉक्स वाला Style वेरिएंट चलाया है। फर्स्ट ड्राइव है तो ज्यादा चलाने का मौका नहीं मिला पर सच बताऊं इस पेट्रोल इंजन की पावर वाकई काफी जबरदस्त है।

ड्राइव से हटा कर अगर आप गियरबॉक्स को एक बार और शिफ्ट करके स्पोर्ट मोड पर डालते हैं तो यह काफी आक्रामक हो जाती है और कम rpm पर ही आपको एक दम से टॉर्क देने लगती है। 0 से 100 kmph की रफ्तार पकड़ने में भी इसे महज कुछ सेकंड्स ही लगते हैं। वहीं, अगर आप मैनुअल में लगाकर पैडल शिफ्टर्स के साथ चलाते हैं तो आपको पूरी तरह एक फन टू-ड्राइव का अनुभव मिलता है।

ग्लास एरिया की बात करें तो सिटी ड्राइव के दौरान ड्राइवर सीट से विजिबिलिटी काफी बेहतर देखने को मिलती है। ORVM का साइज बिल्कुल ठीक-ठाक दिया है और रोड पर चलाते वक्त आपको किसी तरह की कोई दिक्कत नहीं दिखाई देती। ब्रेकिंग भी काफी जबरदस्त हैं और राइड क्वालिटी की बात करें तो कंपनी ने इसके सस्पेंशन में काफी बेहतर काम किया है। राइड क्वालिटी में यह आपको Hyundai Creta को कड़ी टक्कर देती हुई दिखाई देती है। स्टीयरिंग इनपुट भी काफी जबरदस्त है। बॉडी रोल भी आपको ज्यादा देखने को नहीं मिलता। कुल मिलाकर 1.5 लीटर टर्बो पेट्रोल इंजन की परफॉर्मेंस और राइड क्वालिटी की बात करें तो Kushaq वाकई राजा है।

फैसला

India 2.0 प्लान और 95% स्थानीय रूप से निर्मित के बाद भी कंपनी ने इसकी शुरुआती कीमत 10.50 लाख रुपये रखी है जो कि 17.60 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) तक जाती है। टॉप वेरिएंट की कीमतें फीचर्स के हिसाब से थोड़ी ज्यादा हैं। वहीं, अगर कंपनी इस गाड़ी में डीजल इंजन का विकल्प भी दे देती यह गाड़ी वाकई अपने सेगमेंट में काफी मजबूत दिखाई देती क्योंकि इस सेगमेंट के काफी सारे खरीदार डीजल इंजन की तरफ रुख मोड़ते हैं। हालांकि, 1.5 लीटर इंजन के साथ Skoda Kushaq चलाने में काफी दमदार और आरामदायक है। 

Edited By: Bhavana