नई दिल्ली (सिद्धार्था शर्मा)। काफी समय बाद निसान ने भारत में अपना नया प्रोडक्ट लॉन्च किया है। भारतीय बाजार में निसान ने आखिरी प्रोडक्ट निसान टेर्रानो पांच साल पहले लॉन्च किया था और उसके बाद से कंपनी ने अपनी मौजूदा कारों में कुछ मामूली बदलाव ही किए हैं। तो, यह लगभग समय था कि कंपनी ने खुद को लड़ने का एक मौका दिया और भारतीय बाजार के लिए नया प्रोडक्ट लॉन्च किया। निसान ने एसयूवी सेगमेंट में कदम रखने का फैसला लिया और कंपनी ने अब नई निसान किक्स को लॉन्च चार वेरिएंट्स - XL, XV, XV Premium और Premium+ में लॉन्च कर दिया है। हमें हाल ही में गुजरात के भुज में नई निसान किक्स को चलाने का मौका मिला और क्या यह सेगमेंट लीडर हुंडई क्रेटा को चुनौती दे सकती है? इसी बारे में जानकारी देने के लिए निसाक किक्स का फर्स्ट ड्राइव रिव्यू आपके लिए लेकर आए हैं।

यह क्या है?

नई निसान किक्स पूरी तरह के एक एसयूवी नहीं है, यह एक कॉम्पैक्ट एसयूवी की पर स्थित है। किक्स एक डिजाइन भाषा प्रदान करता है, जो आधुनिक और आकर्षक है। निसान किक्स में 2673mm व्हीलबेस दिया गया है। इसके अलावा यह 210mm ग्राउंड क्लीयरेंस की अग्रणी श्रेणी प्रदान करता है। किक्स को निसान इंडिया और इसकी जापानी टीम के संयुक्त प्रयास में डिजाइन किया गया है। भारतीय बाजार में इसका मुकाबला हुंडई क्रेटा, मारुति सुजुकी एस-क्रॉस, फोर्ड ईकोस्पोर्ट और टाटा नेक्सन के साथ-साथ कुछ हद तक मारुति सुजुकी ब्रेजा से भी होगा।

डिजाइन

डिजाइन की बात करें तो नई निसान किक्स में मॉडर्न क्रोसओवर जैसा लुक दिखता है, जो एक सक्रिय और ऊर्जावान डिजाइन लाइन प्रदान करता है। इसमें एक मजबूत A-पिलर और एक डायनामिक सॉनिक पल्स लाइन दी गई हैं, जो कि सड़क पर इसे तेज दिखाती हैं।

फ्रंट में आपको एक वी-मोशन ग्रिल मिलती हैं, जो इसमें फुरतीली लगती है और निसान प्रोजेक्टर हेडलैंप्स किक्स के सभी वेरिएंट्स में स्टैंडर्ड दिए गए हैं। ग्रिल में एक सटीक जाल ग्रिल डिजाइन दिया गया है, जो बड़े निसान लोगो को स्पोर्टी अंदाज से बढ़ाता है।

साइड से किक्स एक टॉल ब्वॉय लुक की तरह दिखती है और यह काफी लंबी है, जिसमें इसके 2673 mm व्हीलबेस का शुक्रिया अदा करना चाहिए। पीछे से भी निसान किक्स का लुक मॉडर्न लगता है, जैसा कि फ्रंट से आपको देखने को मिलता है।

आपको पीछे की तरह एक बूमरैंग लैंप मिलता है, जो वाहन के शरीर से थोड़ी बाहर निकलती हुई दिखाई देती है। कार को छत की रेल के साथ एक फ्लोटिंग रूफ का डिजाइन भी मिलता है, जो कि 100 किलोग्राम तक वजन बढ़ाने में भी सक्षम हैं।

इस सेगमेंट में अपने कई काउंटरपार्ट्स की तरह निसान भी डुअल-टोन रंगो को पेश कर रही है, जहां ग्राहक अपने स्वाद के अनुरूप बॉडी और रूफ के रंगों की एक विस्तृत श्रृंखला का चयन कर सकते हैं। किक्स को एक मजबूत रूप देने के लिए निसान ने सभी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए एक मजबूत फ्रंट बंपर दिया है। इसके अलावा बूट से सामान लोड करने और उतारने के दौरान खरोंच से बचने के लिए रियर बंपर पर एक किक्स ब्रांडेड स्कफ प्लेट भी दी गई है।

निसान किक्स का कुल अनुपात आकर्षक है और यह सड़क पर भी मजूबत उपस्थिति को चिह्नित करती है। चूंकि, प्रतिस्पर्धा के विपरीत इसकी एक अलग ही डिजाइन भाषा है, तो यह डिजाइन के संदर्भ में भारतीय खरीदारों को बहुत लुभाने वाली है।

इंटीरियर्स

निसान किक्स ऐेसे इंटीरियर की पेशकश करता है, जो आपको अपनी ओर खींचने पर मजबूर कर देगा। इसमें विस्तृत सरणी के मैटेरियल्स का इस्तेमाल किया गया है, जिसमें फॉक्स लैदर से प्लास्टिक को एक फॉक्स फाइबर फिनिश शामिल हैं। अगर आप यहां डिटेल में देखते हैं तो इसका केबिन काफी व्यस्त लगता है। हालांकि, अगर आप पूरे केबिन की तस्वीर देखते हैं तो यह आपको आकर्षक दिखेगा। अंदर जाने के लिए निसान आपको एक स्मार्ट कार्ड Key देता है, जिसका इस्तेमाल थोड़ा सा ही है।

इसके अलावा नई निसान किक्स के डैशबोर्ड डिजाइन में एक ग्लाइडिंग विंग डिजाइन दिया गया है, जो कि ड्राइवर और फ्रंट पैसेंजर दोनों को वाहन पर पेश किए जाने वाले सिस्टम तक आसानी से पहुंचने में मदद करता है। स्टीयरिंग व्हील पर भी लैदर रैप के साथ मैटे क्रोम फिनिश का बेहतर तरीके से इस्तेमाल किया गया है। कनेक्टिविटी के लिए आपको निसान इंटेलिजेंट कनेक्ट का लेटेस्ट जनरेशन मिलता है, जो आपको 50 से अधिक फीचर्स का एक्सेस देगा, जो इसे 2019 में आने वाले सबसे कनेक्टेड वाहनों में से एक बनाता है। इसके अलावा यहां 8-इंच का टचस्क्रीन इन्फोटेनमेंट सिस्टम भी दिया गया है, जो इसका एक बेहतरीन टच रिस्पांस और इंटरफेस है।

निसान किक्स में सेगमेंट का पहला ऐसा फीचर दिया गया है, जो अभी तक इस सेगमेंट की किसी गाड़ी में नहीं है। किक्स में बर्ड आई व्यू यानी 360 डिग्री कैमरा सिस्टम दिया गया है, जो इस वाहन के आसान हस्तक्षेप और पार्किंग में मदद करता है। यह सिस्टम निसान किक्स के शरीर पर चार कैमरे के स्थानों का उपयोग करती है ताकि वाहन के स्क्रीन पर कैमरे के आउटपुट को एक साथ देखा जा सके।

हालांकि, सोनी कैमरा सिस्टम के बावजूद, डिस्प्ले रेजोल्यूशन लगभग औसत है और आपको रात में ड्राइविंग स्थितियों के दौरान 360 डिग्री कैमरे पर भरोसा करना मुश्किल लगेगा। हालांकि, आपको इस तरह का सिस्टम सिर्फ हाई एंड गाड़ियों में मिलता है, ना कि कम्यूटर सेगमेंट में। किक्स को एप्पल कारप्ले और एंड्रॉइड ऑटो सपोर्ट दिया गया है और म्यूजिक सिस्टम आपको एक मार के साथ म्यूजिक में स्पष्टता भी देता है, जो आपको इस कार को खरीदने के बाद बाजार से म्यूजिक सिस्टम लगवाने की आवश्यकता नहीं होगी।

पीछे की सीटों के साथ आपको बेहतर हैड रूम और शोल्डर रूम के साथ लेग रूम भी मिलता है। हालांकि, पिछले यात्रियों के लिए पर्याप्त थाई सपोर्ट की कमी है और वहां एक फ्रंट आर्म रेस्ट भी दिया गया है, जो फोल्डेबल नहीं है और इसमें स्टोरेज स्पेस की भी कमी है। स्टीयरिंग व्हील में भी सिर्फ टिल्ट फंक्शन दिया गया है, यहां टेलेस्कॉपिक रैक आपको नहीं मिलेगी। किक्स में इस्तेमाल किया गया क्वालिटी ऑफ मैटेरियल इस सेगमेंट में आकर्षक है और कुल मिलाकर केबिन में अंदर रहने के लिए एक बहुत ही आरामदायक जगह है।

ड्राइव के दौरान कैसी है?

निसान किक्स में पेट्रोल और डीजल दोनों इंजन विकल्प दिए गए हैं। हमने यहां डीजल मोटर वाली किक्स चलाई है, जिसमें 1.5 लीटर मोटर दी गई है और यह हाईवे के लिए आपको पर्याप्त परफॉर्मेंस देने में सक्षम है। निसान किक्स की माइलेज भी काफी बेहतरीन है और करीब 200 किलोमीटर तक इसे चलाया तो हमने पाया कि, इसने डीजल मोटर के साथ 19.8 km/l का माइलेज दिया है। इंजन में 6-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन दिया गया है, जो कि शिफ्ट करने में काफी हलका है। निसान ने फिलहाल इसके ऑटोमैटिक वेरिएंट की घोषणा नहीं की है, लेकिन भविष्य में कंपनी इसे CVT गियरबॉक्स के साथ जल्द उतार सकती है।

किक्स के सस्पेंशन भी वाहन को काफी मजबूत बनाते हैं। गढ्ढे और खराब सड़को पर भी इसकी परफॉर्मेंस काफी बेहतर है और यह खुले हाईवे पर स्मूथ परफॉर्मेंस का अनुभव देती है। किक्स एक फास्ट एसयूवी नहीं है, लेकिन यह एक कॉम्पैक्ट एसयूवी है, जो कि सड़क से चिपक कर चलती है और कपनी ने इसमें आसान ड्राइविंग के साथ इसकी ईंधन दक्षता को भी दिमाग में रखा है। हम यह नहीं कहेंगे कि किक्स ड्राइव करने के लिए एक रोमांचक कार है, लेकिन भारतीय ड्राइविंग स्थितियों के हिसाब से आप इस कार को लेकर विचार कर सकते हैं।

हमारे विचार

नई निसान किक्स व्यावहारिकता के साथ-साथ टेक्नोलॉजी के मामले में सबसे रोमांचक कारों में से एक है जो कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट में कई व्यापारियों की सूची में शामिल है। हालांकि, हुंडई क्रेटा एक ऐसा प्रोडक्ट है जो इसकी लोकप्रियता पर भी विचार करना मुश्किल नहीं होगा। किक्स इस सेगमेंट को और अधिक रोमांचक बनाने के लिए निसान द्वारा सही कदम है, हालांकि अब बात कीमतों पर आकर रुकती है।

निसान किक्स के एंट्री लेवल की रेंज अगर 9 लाख रुपये से शुरू हो और टॉप एंड वेरिएंट 15 लाख रुपये तक पहुंच जाए, तो निश्चित रूप से कई लोगों के लिए यह मूंह में पानी आने वाला सौदा होगा। हालांकि, इससे ज्यादा बहुत कुछ है, जो उपभोक्ता को फिर से क्रेटा की ओर से हटने पर मजूबर कर देगा। कुल मिलाकर निसान को अपने हाथों में बाजार में वापसी करने के लिए एक शानदार प्रोडक्ट मिला है। कीमतों पर झुकाव कुछ ऐसा होगा जो यह निर्धारित करेगा कि यह प्रोडक्ट उपभोक्ताओं के साथ कितना घुलता है। हम कहना चाहेंगे कि किक्स एक व्यावहारिक रूप से स्पोर्टी व्हीकल है, जिसे हम अपने गेराज में रखना चाहेंगे।

कीमत:- 9.55 से 14.65 लाख रुपये तक (एक्स शोरूम दिल्ली)

Posted By: Ankit Dubey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप