PreviousNext

मेरठ व बरेली में काजी का फरमान, बिना राष्ट्रगान के स्वतंत्रता दिवस मनाएं

Publish Date:Sun, 13 Aug 2017 12:37 PM (IST) | Updated Date:Mon, 14 Aug 2017 08:09 AM (IST)
मेरठ व बरेली में काजी का फरमान, बिना राष्ट्रगान के स्वतंत्रता दिवस मनाएंमेरठ व बरेली में काजी का फरमान, बिना राष्ट्रगान के स्वतंत्रता दिवस मनाएं
बरेली के काजी ने मदरसों से कहा कि स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाएं तो सही लेकिन राष्ट्रगान गाए बगैर। मंत्री बल्देव सिंह औलख ने आदेश का पालन न करने वालों पर कार्रवाई के लिए चेताया है।

लखनऊ (जेएनएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भले ही स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर सभी मदरसों में समारोह मनाना अनिवार्य कर दिया है, लेकिन उसका अनुपालन मुश्किल होगा। जगह-जगह पर इसका विरोध भी हो रहा है। कई जगह पर शहर काजी स्वतंत्रता दिवस समारोह को तो मनाने पर राजी है, लेकिन वहां पर राष्ट्रगान नहीं होगा।

उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर मदरसों के लिए जारी राष्ट्रगीत गाने के फरमान का विरोध किया जा रहा है। मेरठ व बरेली के मदरसों में पढऩे और पढ़ाने वालों का कहना है यह मजहब के खिलाफ है। इसी कारण हम इसे नहीं गाएंगे। बरेली के काजी ने मदरसों से कहा है कि स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाएं तो सही लेकिन राष्ट्रगान गाए बगैर।

उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद ने 11 अगस्त को जारी  सर्कुलर में कहा है कि सभी मदरसे 15 अगस्त को तिरंगा फहराएं और राष्ट्रगान गाएं। अब खबर है कि बरेली व मेरठ के काजी ने शहर के मदरसों से कहा है कि वे स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाएं तो सही लेकिन राष्ट्रगान गाए बगैर।

काजी ने कहा है कि यह योगी सरकार का तुगलकी फरमान है। राष्ट्रगान में कुछ शब्द ऐसे हैं जो अल्लाह के प्रति गैरवफादारी प्रदर्शित करता है। हम निश्चित तौर पर आजादी का समारोह बनाएंगे लेकिन मदरसों में हम राष्ट्रगान नहीं गाएंगे। जमात रजा ए मुस्तफा के प्रवक्ता नासिर कुरेशी ने इस बाबत सभी जगह पर राष्ट्रगान नहीं गाने का फरमान भी सुनाया है। 

यूपी मदरसा शिक्षा परिषद ने इस बाबत सर्कुलर जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि कार्यक्रमों के वीडियो भी बनाए जाएं फोटो भी ली जाएं। 

यह भी पढ़ें: यूपी के मदरसों को स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रगान कराने का निर्देश

इस सर्कुलर के मुताबिक, सुबह 8 बजे तिरंगा फहराए जाने और राष्ट्रगान गाने के निर्देश दिए गए हैं। छात्र-छात्राओं को राष्ट्रवादी गीत गाने और 15 अगस्त के इतिहास पर विचार विमर्श के निर्देश दिए गए हैं।

यह भी पढ़ें: डॉ. पीके सिंह को बीआरडी मेडिकल कालेज के प्राचार्य के अतिरिक्त चार्ज

उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी मदरसों को निर्देश दिया है कि वे स्वतंत्रता दिवस समारोह का आयोजन करें और इसकी वीडियोग्राफी करवाएं। प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा था कि उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में स्थित सभी मदरसों में आगामी स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराकर राष्ट्रगान गाने और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिये हैं।

 

यह भी पढ़ें: अफवाहों का दौर जारी, आठ और महिलाओं की कटी चोटी

चौधरी से संबद्ध राज्य मंत्री बल्देव सिंह औलख ने आदेश का पालन नहीं करने वालों पर कार्रवाई के लिए चेताया है। चौधरी ने बताया कि देश के तमाम नागरिक होली, दीपावली, ईद और लोहड़ी के त्यौहार मनाते हैं। वहीं स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस को पूरा देश मनाता है। मदरसों को इससे अलग नहीं किया जाना चाहिये।

 

यह भी पढ़ें: सिद्धार्थनगर में बाढ़ का खतरा गहराया

औलख ने चेताया कि हमने सभी कार्यक्रमों की वीडियोग्राफी कराने को कहा है। हम कभी भी जांच कर सकते हैं कि किस मदरसे ने समारोह मनाया और किसने नहीं। यदि कोई मदरसा यह आदेश नहीं मानता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

 

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Qazi of Madarsa are opposing National Anthem during Independence Day celebration(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

अंधविश्वास और अफवाह के अफसानों के बीच चोटी कटने की हकीकतलखनऊ में आज 80 की स्पीड से होगा मेट्रो का ट्रायल
यह भी देखें