लंदन, आईएएनएस। जर्मनी में बुधवार को पुलिस अधिकारियों ने सरकार को उखाड़ फेंकने की कोशिश करने वाले संदिग्ध चरमपंथियों के खिलाफ छापेमारी की। एक सेवानिवृत्त सैन्य कमांडर और धुर दक्षिणपंथी अल्टरनेटिव फर ड्यूशलैंड (एएफडी) के पूर्व सांसद सहित 71 वर्षीय एक जर्मन रईस सहित पच्चीस लोगों को जर्मनी में हिरासत में लिया गया है। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, संघीय अभियोजकों ने इस बात की जानकारी दी कि लगभग 3 हजार अधिकारियों ने जर्मनी के 16 राज्यों में से 11 में 130 ठिकानों पर छापेमारी की।

आतंकवाद विरोधी अभियान

न्याय मंत्री मार्को बुशमैन ने इस छापेमारी को 'आतंकवाद विरोधी अभियान' बताया है। उन्होंने यह संदेह भी प्रकट किया है कि संदिग्धों ने देश के संस्थानों पर हमले की साजिश रची थी। जर्मनी के शीर्ष सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि यह समूह 'हिंसक तख्तापलट का मंसूबा और षड्यंत्रकारी विचारधाराओं से प्रेरित था' बता दें कि इस समूह के कुछ सदस्यों ने बगावती रुख लेते हुए युद्ध के बाद अस्तित्व में आए जर्मनी के संविधान को स्वीकार करने से इनकार कर दिया। यही नहीं समूह ने सरकार को सत्ता से बाहर करने का आह्वान भी किया।

संघीय अभियोजकों ने इस बात से किया था इनकार

अभियोजकों ने कहा कि 22 जर्मन नागरिकों को 'आतंकवादी संगठन में सदस्यता' के संदेह में हिरासत में लिया गया था। द गार्जियन की रिपोर्ट के अनुसार, एक महिला रूसी नागरिक सहित तीन अन्य बंदियों पर संगठन का समर्थन करने का संदेह था। कुछ सैनिकों द्वारा कथित दूर-दराज भागीदारी पर यूनिट की अतीत में छानबीन की गई थी। संघीय अभियोजकों ने इस बात की पुष्टि या खंडन करने से इनकार कर दिया कि बैरकों की तलाशी ली गई थी।

'आतंकवादी संगठन' की स्थापना

12वीं शताब्दी में पूर्वी जर्मनी के कुछ हिस्सों पर शासन करने वाले महान परिवार के वंशज और जर्मन सेना के पैराट्रूपर बटालियन के एक पूर्व वरिष्ठ क्षेत्र अधिकारी, जिसका नाम केवल रुडिगर वॉन पी था। पिछले साल, इस जोड़ी ने एक 'आतंकवादी संगठन' की। स्थापना की रुडिगर वॉन पी के साथ सैन्य तख्तापलट की योजना बनाने के प्रभारी और हेनरिक XIII ने जर्मनी के भविष्य की मैपिंग की।

यह भी पढ़ें- Fact Check: पीएम मोदी और उनकी मां की एडिटेड फोटो वायरल, जशोदाबेन नहीं थीं वहां पर

यह भी पढ़ें- 10 लाख के होम लोन पर आएगा सालाना 17 हजार का एक्स्ट्रा बोझ

Edited By: Ashisha Singh Rajput

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट