बीजिंग, एएफपी। मौत के करीब डेढ़  दशक गुजर जाने के बाद चीनी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी के पूर्व प्रमुख  झाओ जियांग के अवशेषों को सादे समारोह में  उनके  परिजनों ने शुक्रवार को दफनाया।  वर्ष 1989 में लोकतांत्रिक प्रदर्शनों को दबाने के लिए सैन्‍य बल के इस्‍तेमाल का विरोध करने के जुर्म में उन्‍हें पार्टी प्रमुख के पद से  निष्‍कासित कर दिया गया था। 
 
चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के पूर्व प्रमुख झाओ जियांग का लम्बी बीमारी के बाद वर्ष 17 जनवरी 2005 को  निधन हो गया।  देश में आर्थिक सुधार लाने में उन्‍होंने अहम भूमिका निभाई थी। 1989 में थियानमैन चौक पर लोकतंत्र समर्थक आन्दोलन पर सैन्य कार्रवाई का विरोध करने के बाद उन्हें उनके पद से निष्‍कासित कर दिया गया था और मौत से पहले वे अपने घर में नजरबंद थे। चीन को 1980 के दशक में आर्थिक सुधार के रास्‍ते पर जियांग लेकर गए और देश में बदलाव भी आया। अभी भी देश में वे संवेदनशील मुद्दा हैं।  
 
उल्‍लेखनीय है कि उनके दफनाने की खबर तो कहीं नहीं है साथ ही सोशल मीडिया पर उनके नाम को सर्च करने पर कोई रिजल्‍ट नहीं दिख रहा है। निधन के 14 सालों बाद उनका परिवार उन्‍हें दफनाने में सफल हो सका। 
 
बता दें कि झाओ पार्टी के महासचिव के पद पर वे लगभग  12 साल तक रहे।  झाओ के पोते वांग झियाउ ने एएफपी से कहा, ' आज हमने राहत की सांस ली है। ' हालांकि मौत के बाद  दफनाने की प्रक्रिया में इतना समय क्‍यों लगा यह उन्‍होंने नहीं बताया। इस मौके पर केवल झाओ के परिवार के सदस्‍य ही मौजूद थे। उनके अलावा दो गार्ड भी थे। एएफपी के जर्नलिस्‍ट को फोटो व वीडियोज लेने से इन गार्डों ने रोक दिया था। 

 

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप