वाशिंगटन, पीटीआई। डेमोक्रेटिक सीनेटर मार्क वार्नर ने कहा है कि अमेरिका को वार्षिक रक्षा बजट प्रदान करने वाले राष्ट्रीय रक्षा प्राधिकरण अधिनियम (एनडीएए) के तहत अमेरिकी रक्षा मुख्यालय पेंटागन को उभरती प्रौद्योगिकी, तैयारी और अन्य सामान के लिए भारत के साथ अपना सहयोग बढ़ाने की आवश्यकता है। वार्नर सीनेट की गुप्तचर समिति के चेयरमैन के साथ ही सीनेट के इंडिया काकस के को-चेयर भी हैं। वार्नर ने कहा कि एनडीएए रक्षा और विदेश मंत्रालय को उभरती प्रौद्योगिकी, संयुक्त अनुसंधान एवं विकास, रक्षा व साइबर क्षमताओं में सहयोग बढ़ाने का निर्देश देते हुए भारत के साथ संबंध गहरे करने का निर्देश देना जारी रखेगा।गठबंधन के लिए अन्य अवसरों का लाभ लिया जाना चाहिए ताकि भारत की रूस निर्मित रक्षा उपकरणों पर निर्भरता कम की जा सके।

Video: China Taiwan Tension: America ने भारत भेजा जहाज, चीन की बढ़ी टेंशन | India vs China

सीनेट और प्रतिनिधि सभा की संयुक्त समिति के एनडीएए के मसौदे पर समझौता होने के बाद सीनेटर के कार्यालय ने कहा कि ये प्रविधान भारत के साथ रक्षा साझेदारी, रक्षा प्रणालियों में विविधता लाने के त्वरित प्रयासों का समर्थन करने की दिशा में वार्नर के प्रयासों को उजागर करते हैं।

ये भी पढ़ें: भारत अपने छात्रों पर यूक्रेन युद्ध के प्रभाव को कम करने में जुटा, कंबोज ने कहा कि तलाशे जा रहे विकल्प

Fact Check Story: पुरानी तस्वीरों को हाल में इमरान पर हुए हमले का बता कर किया जा रहा है शेयर

Edited By: Shashank Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट