मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

वाशिंगटन, आइएएनएस। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आने वाले हफ्तों में ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों को कम करने से इनकार नहीं किया है। दरअसल ऐसी अफवाहें हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ईरान पर प्रतिबंधों को कम करने पर विचार कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि ऐसा वह ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ इस महीने एक शिखर सम्मेलन का रास्ता साफ करने की योजना के तहत करने वाले हैं।

ट्रंप ने बुधवार को ओवल कार्यालय में संवाददाताओं से जवाब दिया जब उनसे संभावना के बारे में पूछा गया कि व्हाइट हाउस ईरान पर प्रतिबंधों को कम कर सकता है। इसके जवाब में ट्रंप ने कहा, 'हम देखते हैं कि क्या होता है।ट्रंप ने एक प्रेस रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि उन्होंने रूहानी को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र के दौरान सितंबर में मिलने के लिए मनाने के लिए प्रतिबंधों में ढील देने के विचार पर सोमवार को रोक लगा दी।

ईरान से बातचीत की संभावना
हालांकि ट्रंप ने इसको लेकर कोई पुष्टि नहीं की। उन्होंने इससे परहेज किया कि न्यूयॉर्क में वह रुहानी से मुलाकात को लेकर उत्साहित हैं, लेकिन उन्होंने जोर देकर कहा कि उन्हें लगता है कि ईरान, अमेरिका के साथ द्विपक्षीय तनाव को कम करने के लिए एक समझौता करना चाहते है और अमेरिका, ईरान में सत्ता परिवर्तन नहीं चाहता है।ट्रंप ने कहा कि ईरान के पास वित्तीय परेशानियां हैं, उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि अमेरिका के साथ ईरान की बातचीत काफी समृद्ध होने की संभावना है।

इसलिए जॉन बोल्टन ने दिया इस्तीफा
ट्रेजरी सचिव स्टीवन मेनुचिन ने कथित रूप से इस विचार का समर्थन किया था, लेकिन पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन इसके खिलाफ स्पष्ट रूप से थे, कुछ ने ट्रंप के फैसले के बाद उसी शाम प्रेस रिलीज कर बोल्टन के इस्तीफा देने को इससे जोड़ा।जॉन बोल्टन ईरान के खिलाफ अमेरिकी दबाव को बनाए रखना चाहते थे। उन्होंने ईरान में तख्तापलट की खुले तौर पर पैरवी की थी।

यह भी पढ़ें: ईरान के परमाणु गोदाम में यूरेनियम मिलने का दावा, यूएन ने स्थिति स्‍पष्‍ट करने के दिए निर्देश

यह भी पढ़ें: US-China Trade War: ट्रम्प ने चीनी सामानों पर टैरिफ बढ़ाने के अपने फैसले पर लगाई रोक

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप