मेक्सिको सिटी, प्रेट्र। मेक्सिको की माइग्रेशन अथॉरिटी ने 311 भारतीयों को वापस भेज दिया है। इसमें एक महिला भी हैं। दरअसल मेक्सिको देश भर में अवैध नागरिकों की जांच कर रहा है जो बिना किसी कानून व अनुमति के सीमा पार से आए हैं। बता दें कि इसके लिए अमेरिका की ओर से दबाव बनाया गया है।

देश भर से नागरिकों की पहचान कर भेजा गया वापस 

बुधवार को नेशनल माइग्रेशन इंस्‍टीट्यूट (INM) द्वारा जारी प्रेस रिलीज के अनुसार जिन भारतीय नागरिकों के पास देश में रहने की अनुमति नहीं थी उन्‍हें तोलुका सिटी इंटरनेशनल एयरपोर्ट से बोइंग 747 एयरक्राफ्ट के जरिए नई दिल्‍ली भेज दिया गया। प्रेस रिलीज में बताया गया कि इन लोगों को ओआक्‍साका (Oaxaca), बाजा कैलिफोर्निया (Baja California), वेराक्रुज (Veracruz), चियापास (Chiapas), सोनारा (Sonora),मेक्सिको सिटी (Mexico City), डुरांगो और तबस्‍को के इमिग्रेशन ऑथोरिटी को सौंप दिया गया।

ट्रंप की धमकी

जून में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चेताया था कि मेक्सिको सीमा के जरिए अमेरिका में प्रवेश करने वाले लोगों पर यदि रोक नहीं लगाई गई तो सभी मेक्सिको आयातों पर टैरिफ लगा दिए जाएंगे।

मेक्सिको ने सीमा पर सुरक्षा को सख्‍त करनेऔर प्रवासियों को वापस लेने की अपनी पॉलिसी के विस्‍तार पर सहमति जताई थी।

माइग्रेशन के सख्‍त नियमों के बावजूद हुआ ये काम

प्रेस रिलीज में कहा गया है, 'यह काम हो गया है, इसके लिए एशियाई देशों के दूतवासों से उत्‍कृष्‍ट कम्‍युनिकेशन और कोऑर्डिनेशन का शुक्रिया। इन सबकी मदद से माइग्रेशन के सख्‍त नियमों के बावजूद लोगों को वापस भेजने का काम पूरा हुआ।'  फेडरल माइग्रेशन एजेंट्स व नेशनल गार्ड के साथ इन भारतीय नागरिकों को अकायुकैन माइग्रेशन स्‍टेशन ले जाया गया ताकि इनकी पहचान हो और संबंधित जगहों पर भेजा जा सके। 

समय-समय पर ट्रंप देते हैं चेतावनी

प्रशांत महासागर से मेक्सिको की खाड़ी तक लगभग 3600 किमी की लंबाई में  अमेरिका-मेक्सिको सीमा  है। इस सीमा के जरिए शरणार्थी बड़ी संख्‍या में अमेरिका में प्रवेश करते हैं।  इसी घुसपैठ से परेशान हो अमेरिकी राष्‍ट्रपति समय-समय पर चेतावनी जारी करते रहते हैं। पहले उन्‍होंने कहा था कि अवैध तरीके से घुसपैठ करने वालों  को वे गोली मार देंगे। 

मेक्सिको सीमा पर बनाई जा रही दीवार 

इसी क्रम में मेक्सिको सीमा पर दीवार बनाई जा रही है। ट्रंप ने अपनी चाहत का इजहार करते हुए कहा था कि वे ऐसा चाहते हैं कि इस दीवार पर कंटीली बाड़ लगाई जाए और इसके दोनों ओर पानी भरी खाई हौ। इस खाई में सांप और मगरमच्‍छों को पहरेदार बनाया जाए। 

यह भी पढ़ें: सीमा पर दीवार के विरोध में अमेरिका-मेक्सिको बाड़ पर लगाए See-saw

यह भी पढ़ें: ...तो अमेरिका में जन्म के आधार पर नहीं मिलेगी नागरिकता, बड़ी संख्या में भारतीय होंगे

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप