न्यूयॉर्क, एएनआइ। Mahatma Gandhi 150th Birth Anniversary, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर उन्हें पूरा विश्व याद कर रहा है। इस दौरान संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी ने अहिंसक आंदोलन से इतिहास को बदल दिया। संयुक्त राष्ट्र में हम उनके आदर्शों को आगे बढ़ा रहे हैं। बता दें कि वैश्विक समुदाय द्वारा महात्मा गांधी की जयंती को अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

गांधी हमेशा प्रेरित करते रहेंगे

गुटेरेस ने ट्वीट कर कहा, 'महात्मा गांधी ने अहिंसक आंदोलनों का नेतृत्व किया और इसके माध्यम से इतिहास बदल दिया। जन्म के150 साल बाद गांधी जी के आदर्शों के साथ यूएन आगे बढ़ रहा है। उनका साहस और दृढ़ विश्वास हमें हमेशा प्रेरित करता रहेगा। गुटेरेस ने एक बयान में कहा, 'संयुक्त राष्ट्र, आपसी समझ, समानता, सतत विकास, युवा लोगों के सशक्तिकरण और विवादों के शांतिपूर्ण समाधान करके उनकी दृष्टि को दुनिया भर में आगे बढ़ा रहा है।'  

'स्वराज' और 'अहिंसा' से भारत को दिलाई आजादी

गुटेरेस ने इस दौरान कहा, ' 2 अक्टूबर, 1869 को गुजरात के पोरबंदर शहर में जन्मे, महात्मा गांधी (मोहनदास करमचंद गांधी) ने अहिंसक आंदोलन को अपनाया और ब्रिटिश शासन के खिलाफ स्वतंत्रता संघर्ष में धैर्य के साथ आगे बढ़े। इसका नतीजा ये हुआ कि भारत को 1947 में अंग्रेजों से आजादी मिल गई। बापू को 'स्वराज' और 'अहिंसा' में उनके अटूट विश्वास ने उन्हें दुनिया भर में प्रशंसा दिलाई।'

खाई को किया उजागर

गुटेरेस ने इस दौरान ये भी कहा 'जनवरी 1948 में हत्या से पहले और विभाजन के बाद महात्मा गांधी ने लगातार हम जो करते हैं और जो हम करने में सक्षम हैं, उसके बीच की खाई को उजागर किया और इसे पाटने की कोशिश की। संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने कहा,' मैं इस अंतरर्राष्ट्रीय दिवस पर हर किसी से इस विभाजन को पाटने के लिए अपनी शक्ति अनुसार कोशिश करने का आग्रह करता हूं, ताकि हम एक बेहतर भविष्य बना सके।'

यह भी पढ़ें: जलियांवाला बाग नरसंहार ने गांधीजी को बनाया था विद्रोही, फिर शुरू हुआ यह आंदोलन

यह भी पढ़ें: Mahatma Gandhi birth anniversary: इन समस्‍याओं पर आज भी सच साबित हो रहीं बापू की बातें

 

Posted By: Tanisk

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप