Move to Jagran APP

अमेरिका में आपराधिक मुकदमे का सामना करने वाले पहले पूर्व राष्ट्रपति होंगे ट्रंप, 4 अप्रैल को कोर्ट में पेशी

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिकी इतिहास में सर्वोच्च पद पर पहुंचने वाले ऐसे पहले व्यक्ति होंगे जिन्हें आपराधिक मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। डोनाल्ड ट्रंप चार अप्रैल को मैनहटन की अदालत में पेश होंगे। File Photo

By AgencyEdited By: Devshanker ChovdharyPublished: Sat, 01 Apr 2023 03:00 AM (IST)Updated: Sat, 01 Apr 2023 03:00 AM (IST)
चार अप्रैल को कोर्ट में पेश होंगे ट्रंप।

न्यूयार्क, रायटर्स। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिकी इतिहास में सर्वोच्च पद पर पहुंचने वाले ऐसे पहले व्यक्ति होंगे, जिन्हें आपराधिक मुकदमे का सामना करना पड़ेगा। मैनहट्टन की ग्रांड ज्यूरी ने 2018 के राष्ट्रपति चुनाव अभियान के दौरान पोर्न स्टार स्टार्मी डेनियल्स को संबंधों को लेकर चुप रहने के बदले ट्रंप की ओर से पैसे देने के मामले की जांच में दोषी पाया है, ज्यूरी ने उनके विरुद्ध अभियोग चलाने की अनुमति दे दी है।

चार अप्रैल को कोर्ट में ट्रंप की पेशी

सूत्रों के अनुसार, डोनाल्ड ट्रंप चार अप्रैल को मैनहटन की अदालत में पेश होंगे। उनकी पेशी से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि उनकी मौजूदगी के समय दूसरे सभी मामलों की सुनवाई रोकने पर विचार किया जा रहा है। ट्रंप के वकील सुसान नेशेल्स ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति खुद को बेकसूर बताएंगे।

ट्रंप ने खुद को बताया निर्दोष

ट्रंप के एक अन्य वकील जोसेफ टैकोपिना ट्रंप को पेशी के दौरान हथकड़ी नहीं लगाई जाएगी। उन्हें बिना जमानत के ही छोड़ दिए जाने की उम्मीद है। सीएनएन की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, अभियोग से संबंधित आरोप अभी सीलबंद हैं। वहीं, ट्रंप ने कहा है कि वह पूर्णतया निर्दोष हैं। यह डेमोक्रेट की साजिश है। उन्होंने संकेत दिया कि वह राष्ट्रपति चुनाव लड़ने से पीछे नहीं हटेंगे।

ट्रंप ने डेमोक्रेट पर आरोप लगाया कि वे जो बाइडन के विरुद्ध 2024 के राष्ट्रपति चुनाव में मेरी जीत की संभावना को धूमिल करने का प्रयास कर रहे हैं। यह इतिहास में सबसे बड़ी राजनीतिक बदले की कार्रवाई है। इससे पहले 18 मार्च को ट्रंप अपनी गिरफ्तारी की आशंका जता चुके हैं। हालांकि, अभी तक व्हाइट हाउस की कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

बता दें कि ट्रंप पर 30 से अधिक कारोबारी धोखाधड़ी के आरोपों का सामना कर रहे हैं। उन पर कैपिटल ¨हसा को उकसाने के भी आरोप हैं।

क्या है मामला?

डोनाल्ड ट्रंप पर पोर्न स्टार स्टार्मी डेनियल ने 2006 में शारीरिक संबंध बनाने का आरोप लगाया था। कहा था कि ट्रंप ने उसे बड़ा टीवी स्टार बनाने का वादा कर ऐसा किया, लेकिन उसे नहीं निभाया। इसके बाद 2018 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान उसे इस मामले में चुप रहने के बदले ट्रंप की ओर से 1.30 लाख डालर दिए गए।

ट्रंप को प्रतिद्वंद्वियों का मिला समर्थन

ट्रंप 2024 के राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के टिकट के मजबूत दावेदार माने जा रहे हैं। ज्यूरी के फैसले बाद उन्हें अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों का भी समर्थन मिला है। इसमें फ्लोरिडा के गवर्नर रान डिसैंटिस और पूर्व उपराष्ट्रपति माइक पेंस शामिल हैं। वहीं, रिपब्लिकन पार्टी की ओर से ही राष्ट्रपति चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके दोनों भारतवंशी नेताओं निक्की हेली और विवेक रामास्वामी ने इसे राजनीतिक बदले की कार्रवाई बताया है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.