Move to Jagran APP

Bihar Diwas: न्यूयॉर्क में मनाया गया बिहार दिवस, राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत पर गौरवान्वित हुए प्रवासी

न्यूयार्क में भारत के महावाणिज्य दूतावास में बिहार दिवस के मौके पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बिहार की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और राज्य के प्रवासियों के योगदान और उपलब्धियों को दिखाया गया। File Photo

By AgencyEdited By: Devshanker ChovdharyPublished: Wed, 22 Mar 2023 08:55 PM (IST)Updated: Wed, 22 Mar 2023 08:55 PM (IST)
राज्य की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत पर डाला गया प्रकाश।

न्यूयार्क, पीटीआई। आज यानी कि 22 मार्च को बिहार सहित देश-विदेश में 'बिहार दिवस' मनाया जा रहा है। इसी क्रम में अमेरिका में भी बिहार दिवस की धूम दिखी। न्यूयार्क में भारत के महावाणिज्य दूतावास में बिहार दिवस के मौके पर भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बिहार की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और राज्य के प्रवासियों के योगदान और उपलब्धियों को दिखाया गया।

लोगों ने बिहार की यादों को किया ताजा

बिहार फाउंडेशन ऑफ यूएसए (ईस्ट कोस्ट) ने मंगलवार को प्रवासी भारतीयों और यहां जुटे हुए भारतीय-अमेरिकी समुदाय के सदस्यों के लिए बिहार की यादों को ताजा करते हुए 'बिहार दिवस समारोह' की मेजबानी की। इस अवसर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक विशेष वीडियो संदेश दिया।

नीतीश कुमार ने दिया संदेश

नीतीश कुमार ने संदेश में कहा, "बिहार दिवस समारोह के दौरान इन अंतरराष्ट्रीय मंचों पर बिहार की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और उपलब्धियों को साझा करने और प्रदर्शित करने के लिए हमें अपने जीवंत और सक्रिय प्रवासियों पर गर्व है।" उन्होंने अमेरिका में बिहार की विरासत और परंपराओं को बढ़ावा देने और स्वैच्छिक और परोपकारी गतिविधियों को समर्थन करने के लिए बिहार फाउंडेशन यूएसए के प्रयासों की सराहना की।

न्यूयॉर्क में भारत के महावाणिज्यदूत रणधीर जायसवाल ने अमेरिका में प्रवासी भारतीयों के साथ-साथ उनकी परोपकारी गतिविधियों के लिए योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा कि उनके गृह राज्य की बेहतरी के लिए काम करने के उनके दृढ़ संकल्प और उत्सुकता के माध्यम से बिहार 2.0 का लक्ष्य 2023 में हासिल किया जाएगा।

न्यूयार्क में दिखा लिट्टी चोखा और झिझिया की धूम

बिहार का प्रसिद्ध 'लिट्टी चोखा' से लेकर लोकप्रिय 'झिझिया' गीत और नृत्य, पारंपरिक बोलियों और वस्त्रों को कार्यक्रम में शामिल किया गया था। इस दौरान, लोगों ने बिहार से जुड़े अपने यादों को ताजा किया।

बिहार फाउंडेशन ऑफ यूएस (ईस्ट कोस्ट चैप्टर) के अध्यक्ष और फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन (FIA) के पूर्व अध्यक्ष आलोक कुमार ने कहा कि फाउंडेशन का उद्देश्य प्रवासी भारतीयों के सदस्यों का समर्थन और मार्गदर्शन करने के लिए एक पुल के रूप में कार्य करना है, जो विकास और सामाजिक परियोजनाओं को हाथ में लेना चाहते हैं।

इस अवसर पर बिहार के तीन व्यक्तियों को उनकी उपलब्धियों और योगदान के लिए 'बिहार विश्व गौरव' पुरस्कार से सम्मानित किया गया।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.