Move to Jagran APP

प. बंगाल भाजपा अध्‍यक्ष दिलीप घोष पर हमला, टीएमसी पर आरोप, भाजयुमो का सभी जिलों में प्रदर्शन

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्‍यक्ष दिलीप घोष पर लेक टाउन में शुक्रवार सुबह कथित रूप से उस वक्‍त हमला हुआ जब वह रोजाना की तरह मॉर्निंग वॉक और चाय पे चर्चा के लिए जा रहे थे।

By Preeti jhaEdited By: Published: Fri, 30 Aug 2019 11:18 AM (IST)Updated: Fri, 30 Aug 2019 01:47 PM (IST)
प. बंगाल भाजपा अध्‍यक्ष दिलीप घोष पर हमला, टीएमसी पर आरोप, भाजयुमो का सभी जिलों में प्रदर्शन

कोलकाता, जागरण संवाददाता। पश्चिम बंगाल भाजपा अध्‍यक्ष दिलीप घोष पर लेक टाउन में शुक्रवार सुबह कथित रूप से उस वक्‍त हमला हुआ जब वह रोजाना की तरह मॉर्निंग वॉक और चाय पे चर्चा के लिए जा रहे थे। दिलीप घोष ने घटना के लिए टीएमसी समर्थकों पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके साथ मौजूद दो भाजपा कार्यकर्ता इस हमले में घायल हो गए हैैं। दिलीप घोष ने कहा कि तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने उनको लक्ष्य कर गोबैक के नारे लगाए। उनके हमले में दो भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए है। भाजपा के झंडे, बैनर भी फाड़ दिए गए।

जानकारी हो कि  'चाय पर चर्चा' के दौरान पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष पर हमले की कोशिश की गई। आरोप है कि आज लेक टाउन के दक्षिणदाड़ी इलाके में दिलीप घोष अपने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ चाय पर चर्चा कार्यक्रम में गए थे। तभी तृणमूल के कार्यकर्ताओं ने उनको लक्ष्य कर गोबैक के नारे लगाए। उनके हमले में दो भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए है। भाजपा के झंडे, बैनर भी फाड़ दिए गए।

आरोप है कि पुलिस के सामने ही तृणमूल के कार्यकर्ता गली गलौज कर रहे थे। पार्टी सूत्रों के अनुसार तय कार्यक्रम के तहत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष आज सुबह करीब सात बजे अपने कार्यकर्ताओं के साथ एक चाय दुकान पर पहुंचे। वहां पहले से तृणमूल कार्यकर्ता मौजूद थे जिन्होंने घोष को देखते ही उनके खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी। जवाब में भाजपा कार्यकर्ताओं ने भी भारत माता की जय, दिलीप घोष जिंदाबाद के नारे लगाए। इसी बीच दोनों पक्षों में धक्का-मुक्की शुरू हो गई। वहां से दिलीप घोष के निकलने के बाद स्थिति शांत हुई।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमत्री ममता बनर्जी के 'दीदी के बोलो' कार्यक्रम के मुकाबले दिलीप घोष ने  'चाय पर चर्चा' कार्यक्रम शुरू किया है। इसके तहत वे लोगों से उनकी समस्याएं मालूम कर रहे हैं। कार्यक्रम का मकसद जनसंपर्क बढ़ाना है।

उल्‍लेखनीय है कि दिलीप घोष पर पहले भी कई बार हमले हो चुके हैं। इस साल मई में उनके काफिले पर खेजुरी में हमला हुआ था। हालांकि उन्हें कोई नुकसान नहीं हुआ लेकिन दो वाहनों में तोड़फोड़ की गई थी। इसी तरह पिछले साल दिसंबर में दिलीप घोष की गाड़ी पर अज्ञात लोगों ने हमला किया। 

दिलीप घोष पर हमले के खिलाफ सभी जिलों में प्रदर्शन करेगा भाजयुमो

'चाय पर चर्चा' के दौरान पश्चिम बंगाल प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष पर हुए  हमले की भारतीय जनता युवा मोर्चा ने कड़ी निंदा की है। घटना के खिलाफ मोर्चा ने आज राज्य के सभी सांगठनिक जिलों में  प्रदर्शन का निर्णय किया है। यह विरोध प्रदर्शन अपरान्ह 3 से 3.30 बजे तक चलेगा। हमले के खिलाफ प्रदेश भाजपा मुख्यालय से भी विशाल रैली निकली है।

पढ़ें :  पढ़ाई के लिए समय नहीं मिलने पर अर्जुन ने ट्रेन को बना लिया है 'स्टडी रूम'

प. बंगाल से जुड़ी बाकी खबरों के लिए यहां क्लिक करें 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.