Move to Jagran APP

बांग्लादेशी तस्करों का BSF जवानों पर हमला, एक जवान गंभीर रूप से घायल; भारत ने दर्ज कराया कड़ा विरोध

बंगाल के नदिया जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बांग्लादेशी मवेशी तस्करों के दल ने सोमवार देर रात बीएसएफ जवानों पर हमला कर दिया जिसमें एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना के बाद बीएसएफ अधिकारियों ने बार्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के साथ कमांडेंट स्तर की बैठक कर कड़ा विरोध दर्ज कराया है तथा घटना में शामिल बांग्लादेशी बदमाशों की तत्काल गिरफ्तारी का अनुरोध किया है।

By Jagran News Edited By: Sonu Gupta Published: Tue, 11 Jun 2024 10:30 PM (IST)Updated: Tue, 11 Jun 2024 10:30 PM (IST)
बांग्लादेशी तस्करों का BSF जवानों पर हमला, एक जवान गंभीर रूप से घायल। फाइल फोटो।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल के नदिया जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बांग्लादेशी मवेशी तस्करों के दल ने सोमवार देर रात बीएसएफ जवानों पर हमला कर दिया, जिसमें एक जवान गंभीर रूप से घायल हो गया। अधिकारियों ने बताया कि तस्करी रोकने के लिए बीएसएफ जवानों के लगातार प्रयासों से हताश तस्करों ने इस घटना को अंजाम दिया।

अवैध रूप से भारत में प्रवेश करने की कोशिश में तस्कर

बताया गया कि घटना रात करीब 11.30 बजे की है जब ड्यूटी प्वाइंट पर तैनात बीएसएफ जवान ने थर्मल इमेजर (एचएचटीआई) की मदद से बांग्लादेश से भारत में अवैध रूप से सीमा पार करने की कोशिश कर रहे छह-सात तस्करों की संदिग्ध गतिविधि देखी। इसी बीच, धारदार हथियारों और वायर कटर से लैस तीन से चार बांग्लादेशी तस्करों ने सीमा पर लगे स्मार्ट फेंसिंग को काट कर बार्डर रोड को पार कर भारत की ओर बढ़ने लगे।

तस्करों ने की जवान को घेरने की कोशिश

इस बिंदु पर तैनात जवान ने रुकने की चेतावनी दी लेकिन तस्करों पर इसका कोई असर नहीं हुआ और वे जवान की ओर आक्रामक रूप से आगे बढ़े और उसे घेरने की कोशिश करने लगे। जवाबी कार्रवाही में जवान ने पहले गैर-घातक पंप एक्शन गन (पीएजी) से एक राउंड फायर किया, लेकिन वह मिसफायर हो गया।

हमले में जवान के कूल्हे, कमर और गर्दन पर गंभीर चोटें आईं

तभी बांग्लादेशी बदमाशों ने बीएसएफ जवान पर तेजधार दाह से हमला कर दिया, जिससे जवान के कूल्हे, कमर और गर्दन पर गंभीर चोटें आईं। हमला इतना घातक था कि जवान की बेल्ट भी कट गई और राइफल और मैगजीन क्षतिग्रस्त हो गई, जिससे मैगजीन से सभी गोलियां बिखर गईं।

वापस भागने में सफल रहे तस्कर

स्थिति को गंभीर देखकर उसके साथी जवान ने अपने पीएजी से गोली चलाई, लेकिन तब तक बांग्लादेशी बदमाश अंधेरे और घनी झाड़ियों का फायदा उठाकर बांग्लादेश भागने में सफल रहे। घायल जवान को तुरंत प्राथमिक उपचार के बाद कोलकाता के सरकारी एसएसकेएम ट्रामा सेंटर में लाया गया, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

बीएसएफ ने घटना को लेकर बीजीबी से दर्ज कराया विरोध

घटना के बाद बीएसएफ अधिकारियों ने बार्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के साथ कमांडेंट स्तर की बैठक कर कड़ा विरोध दर्ज कराया है तथा घटना में शामिल बांग्लादेशी बदमाशों की तत्काल गिरफ्तारी का अनुरोध किया है।

बीएसएफ सूत्रों ने बताया कि हमलावर बांग्लादेश के झेनइदाह जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास के गांवों के हैं। बीएसएफ ने घटना की सूचना स्थानीय धानतला थाने को भी दी है और प्राथमिकी दर्ज की गई है। दरअसल, बीएसएफ जवानों पर इस प्रकार का हमला कोई पहली घटना नहीं है। इससे पूर्व भी कई जानलेवा हमले हुए हैं।

यह भी पढ़ेंः

PM Modi के बाद अब जयशंकर ने पाकिस्तान को दिया साफ शब्दों में संदेश…, चीन और मालदीव पर भी कह दी बड़ी बात

Manohar Lal Khattar: तो क्या अब बारिश में भी नहीं होगा जलभराव! मनोहर लाल ने कमान संभालते ही बनाया ये प्लान


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.