उत्तरकाशी, जेएनएन। भाजपा की वरिष्ठ नेत्री एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती इन दिनों गंगा पैदल यात्रा पर हैं। यह यात्रा उमा ने 14 अक्टूबर गंगोत्री से शुरू की थी। रविवार को वह जिला मुख्यालय उत्तरकाशी से 50 किमी गंगोत्री की ओर गंगनानी पहुंचीं। बताया जा रहा कि उमा नमामि गंगे परियोजना के तहत हुए कार्यों के अलावा गंगा की स्वच्छता की स्थिति को भी देख रही हैं। अभी अपनी इस यात्रा के बारे में उमा ने सिर्फ इतना ही बताया कि वह गंगोत्री से गंगा सागर की यात्रा पर निकली हैं। जहां तक संभव हो पाएगा, वहां तक वह पैदल जाएंगी। उमा भारती गत 11 अक्टूबर को गंगोत्री पहुंची थीं।

13 अक्टूबर तक वह धराली में रहीं और 14 अक्टूबर की सुबह गंगोत्री पहुंचीं। वहां गंगा घाट पर पूजा-अर्चना के बाद वह पैदल ही उत्तरकाशी की ओर चल पड़ीं। भैरवघाटी, धराली, झाला, जसपुर, सुक्की, डबराणी होते हुए रविवार शाम उमा गंगनानी पहुंचीं। इस पैदल यात्रा में उमा स्थानीय लोगों से गंगा की स्वच्छता और निर्मलता की अपील कर रही हैं। साथ ही गंगा के किनारे बसे ग्रामीणों से जैविक खेती करने का भी आग्रह कर रही हैं। ताकि गंगा प्रदूषित न हो। हालांकि, इस यात्रा के बारे में विस्तार से उन्होंने कुछ नहीं बताया।

यह भी पढ़ें: कमलेश तिवारी की हत्या के बाद अब साध्वी प्राची ने बताया जान को खतरा, मांगी सुरक्षा

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप