रुद्रप्रयाग, [जेएनएन]: केदारनाथ की विषम भौगोलिक परिस्थितियों में रहने के लिए जहां आम आदमी असहज रहता है, वहीं पुलिस ने सब्जी उत्पादन का काम भी किया। पुलिस ने जिले के उन्हें भी आईना दिखाया है जो केदारनाथ ड्यूटी लगने के नाम पर बहानेबाजी करते हैं। इस वर्ष टीम ने दो क्विंटल आलू पैदा किया है।

साढे ग्यारह हजार फीट ऊंचाई पर स्थित केदारनाथ धाम में अब तक आम तौर पर कोई पैदावार नहीं होती। स्थानीय निवासी यात्रा शुरु होने पर यहां पहुंचते हैं, उस समय केदारनाथ में बर्फ जमी रहती है, जबकि अक्टूबर महीने में कपाट बंद होने पर वापस आ जाते हैं, इस विषम परिस्थितियों में यहां रहना ही काफी मुश्किल होता है, ऑक्सीजन के साथ ही कड़ाके की ठंड से कुछ भी यहां करना काफी मुश्किल होता है। 

ऐसे में सब्जी उत्पादन की ओर सोचता भी नहीं है, लेकिन केदारनाथ में तैनात पुलिस टीम ने धाम में दो क्विंटल आलू की पैदावार कर सबको आईना दिखाया है, साथ ही यह भी साबित किया है कि यदि मन में कुछ करने का इरादा हो तो वह पूरा हो ही जाता है। जून महीने में चौकी प्रभारी विपिन चन्द्र पाठक की पुलिस टीम ने 20 किलो आलू बोया था। 

बरसात में बारिश होने के बावजूद टीम ने अपनी ओर निगरानी में कोई कमी नहीं छोड़ी। और कपाट बंद होने पर आलू की खुदाई की गई। और अब खुदाई में दो क्विंटल आलू निकला है, जिस प्रसाद के रूप में सभी अधिकारियों जिनके द्वारा केदारनाथ में रहकर भोले बाबा की सेवा की गई उन्हें दिया जा रहा है।

 

यह भी पढ़ें: पटरी पर आ रहा पर्यटन, चार लाख से ज्यादा यात्रियों ने किए बाबा केदार के दर्शन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की इस मशरूम गर्ल को मिला नारी शक्ति पुरस्कार

 

Posted By: Sunil Negi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस