रुद्रप्रयाग, बृजेश भट्ट। केदारनाथ यात्रा के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब बाबा के दर्शनों को आने वाले यात्रियों की संख्या नित नए रिकॉर्ड बना रही है। अभी तक 8.5 लाख यात्री बाबा केदार के दर्शन कर चुके हैं, जबकि यात्रा में अभी डेढ़ माह से अधिक का समय शेष है। विशेष यह कि बरसात की विदाई की दस्तक के साथ ही एक बार फिर यात्रियों की संख्या में बढ़ोत्तरी होने लगी है। 

केदारनाथ धाम में पहली बार यात्रियों की संख्या 8.5 लाख के पार पहुंची है। ऐसा भी पहली बार हुआ, जब 36 हजार से अधिक यात्रियों ने एक ही दिन में बाबा के दर्शन किए और कई दिनों तक 30 हजार से अधिक यात्री रोजाना दर्शनों को पहुंचते रहे। इस अवधि में मंदिर भी पूरी रात दर्शनों को खुला रहा। जबकि बीते वर्ष पूरे यात्रा सीजन में कुल 7.32 लाख यात्री ही बाबा के दर्शनों को पहुंच पाए थे। इधर, जैसे-जैसे वर्षा ऋतु विदाई की ओर बढ़ रही है, यात्रियों की संख्या में भी वृद्धि होने लगी है। 

रोजाना दो से तीन हजार यात्री बाबा के दर्शनों को केदारनाथ पहुंच रहे हैं और उम्मीद कि आने वाले दिनों में यह संख्या और बढ़ेगी। बारिश का सिलसिला थमने के बाद हेली सेवाएं भी दोबारा शुरू हो गई हैं। इस साल नौ हेली कंपनियों को सरकार ने उड़ान की अनुमति दी थी, जिनमें से सात कंपनियों ने अपनी सेवाएं शुरू कर दी हैं।

यह भी पढ़ें:  वैष्णो देवी की तर्ज पर होगी केदारनाथ यात्रा, अध्ययन को दल रवाना

धाम में यात्रियों की आमद बढ़ने से व्यापारियों के चेहरों पर भी रौनक है। व्यापार संघ के अध्यक्ष महेश बगवाड़ी कहते हैं कि सितंबर-अक्टूबर में एक बार फिर यात्रियों की संख्या बढ़ने से व्यापारियों को काफी फायदा होगा। कहा कि, इस बार की केदारनाथ यात्रा ने भविष्य के लिए उम्मीदों के द्वार खोल दिए हैं। जो कि एक सुखद संदेश है।

यह भी पढ़ें: देश के अंतिम गांव में भाव-विभोर कर गया नारायण का माता मूर्ति से मिलन, पढ़िए पूरी खबर 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप