नरेश कुमार, नैनीताल : Christmas and New Year Celebration : कोविड लाकडाउन की बंदिश से निकलकर तीन साल बाद इस बार सरोवर नगरी में क्रिसमस की धूम रहेगी।

साथ ही, थर्टी फर्स्ट के जश्न के साथ नववर्ष का स्वागत होगा। गीत-संगीत के साथ विविध कार्यक्रमों को लेकर होटल कारोबारियों ने पैकेज प्लान किए हैं। क्रिसमस को लेकर होटलों समेत नगर के ऐतिहासिक गिरजाघरों में कार्यक्रम शुरू हो चुके हैं।

कोविड की भेंट चढ़ चुके हैं पिछले दो साल

हर साल नववर्ष से पूर्व हजारों सैलानी सरोवर नगरी पहुंच जाते हैं। पिछले दो साल कोविड की भेंट चढ़ चुके हैं, मगर इस बार लाकडाउन की कोई बंदिश नहीं है। इसलिए क्रिसमस से लेकर नववर्ष को लेकर सैलानी ही नहीं कारोबारी भी उत्साहित हैं।

होटल-रिसॉर्ट दे रहे ये पैकेज

  • होटल-रिसॉर्ट कारोबारी दिल्ली और मुंबई से गायक व बैंड मंगवाकर नववर्ष मनाने की तैयारियों में जुटे हुए हैं।
  • होटलों ने पैकेजों में बच्चों के मनोरंजन के लिए कई कार्यक्रम शामिल किए हैं।
  • दो रात्रि व तीन दिवसीय पैकेज में विभिन्न प्रकार के कुमाऊंनी व साउथ इंडियन स्वादिष्ट व्यंजन परोसे जाएंगे।
  • थर्टी फर्स्ट के लिए अलग-अलग थीम पर होटल सज रहे है।
  • थर्टी फर्स्ट व न्यू ईयर के लिए नगर के बड़े होटलों में अभी से 20 से 25 प्रतिशत एडवांस बुकिंग हो चुकी है।
  • बड़े होटलों ने तीन दिवसीय पैकेज 15 से 50 हजार रुपये तक रखे गए हैं।

यह भी पढ़ें : Uttarakhand Tourism : उत्‍तराखंड में हिमालय के यह गुप्त खजाने, केंद्र सरकार विकसित करे तो खिंचे आएंगे पर्यटक 

पार्किंग वाले होटलों की प्री-बुकिंग से होगी आसानी

  • क्रिसमस और थर्टी फर्स्ट की तैयारियों को लेकर पुलिस ने भी ट्रैफिक प्लान तैयार कर लिया है।
  • एसएसपी पंकज भट्ट ने बताया कि 20 दिसंबर से नैनीताल में अतिरिक्त पुलिस बल तैनात रहेगा।
  • पर्यटन पुलिस पर्यटकों का मार्गदर्शन करती नजर आएगी।
  • शहर के पार्किंग स्थल फुल होने के बाद रूसी बाईपास में पर्यटक वाहनों को पार्क किए जाने की योजना है।
  • बाईपास में सुविधाओं के विस्तार के लिए जिला प्रशासन से भी वार्ता की जा रही है।
  • रूसी बाईपास के पैक होने की स्थिति में कालाढूंगी और काठगोदाम में पर्यटक वाहनों को रोका जाएगा।
  • पर्यटक यदि पार्किंग वाले होटलों में प्री-बुकिंग कराकर पहुंचे तो आसानी होगी।

पुलिस अधिकारी, पर्यटक व मरीज सब जाम में फंसे

हल्द्वानी शहर को जाम से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है। रविवार को जाम का आलम यह था कि पुलिस अधिकारी, पर्यटक व मरीज सब जाम में फंसे रहे।

अपराह्नन ढाई बजे से शाम सात बजे तक अति व्यस्त सड़कों पर वाहन रेंगते रहे। वीकेंड पर रविवार को हल्द्वानी में वाहनों का दबाव अचानक बढ़ा। हल्द्वानी से नैनीताल जाने व आने वाले पर्यटकों के वाहनों की कतारें लगनी शुरू हो गईं।

दोपहर ढाई बजे के बाद सड़कों पर जाम की समस्या बढ़ गई। तिकोनिया तिराहे से मंगलपड़ाव तक आने में वाहन चालकों को पौन घंटा लग गया। वहीं, कालाढूंगी-हल्द्वानी स्टेट हाईवे पर कुसुमखेड़ा हनुमान मंदिर के पास लंबा जाम लगा।

इस दौरान सड़क से गुजर रहे एसपी सिटी हरबंस सिंह की कार भी जाम में कुछ देर फंसी रही। रोडवेज के पास मरीज को ला रही एंबुलेंस व कालूसिद्ध मंदिर के पास सड़क पार कर रहे पैदल राहगीर तथा काठगोदाम में पर्यटकों के सैकड़ों वाहन जाम में फंसे रहे।

हल्द्वानी रोडवेज डिपो व केमू स्टेशन से विभिन्न रूटों को जाने वाली बसें भी जाम में फंसी रही। इस कारण बसें कुछ समय विलंब से अपने गंतव्य के लिए रवाना हुई। कालूसिद्ध मंदिर व मंगलपड़ाव के पास सीपीयू के जवान जाम खुलवाने के लिए जद्दोजहद करते दिखे।

ट्रैफिक पुलिस काठगोदाम व एमबीपीजी कालेज के पास जाम खुलवाने में जुटी थी। इसके अलावा अन्य सड़कों पर थाना व चौकी पुलिस नजर नहीं आई। पर्यटकों ने आगे निकलने की होड़ में नैनीताल हाईवे पर एक ही साइड में वाहनों की दो-दो लाइनें लगा दी थी।

Edited By: Nirmala Bohra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट