जागरण संवाददाता, हरिद्वार। Haridwar Maha Kumbh Mela 2021 हरिद्वार कुंभ मेले के लिए रेलवे प्रशासन भी तैयारियों में जुटा है। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कुंभ में प्रत्येक आधे घंटे में प्रमुख स्टेशनों के लिए ट्रेनें संचालित की जाएंगी। चौबीस घंटे में तकरीबन 48 ट्रेनों का संचालन होगा। वहीं, श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए बंद पड़ी नियमित ट्रेनों का संचालन भी शुरू कर दिया गया है। भीड़ बढ़ने पर मेला स्पेशल ट्रेनें भी चलाई जाएंगी। 

उत्तराखंड सरकार की ओर से 27 फरवरी से कुंभ की शुरुआत होगी। लिहाजा रेलवे की ओर से स्थायी और अस्थायी प्रकृति के कार्यों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। रेलवे प्रशासन का पूरा जोर भीड़ नियंत्रण पर है। इसके लिए स्टेशन के झंडा मेला ग्राउंड में होल्डिंग एरिया बनाया गया है। रेलवे के अनुसार हरिद्वार कुंभ में ट्रेनों का संचालन व व्यवस्थाएं अच्छी तरह संचालित करने के लिए हरिद्वार, लक्सर व ऋषिकेश स्टेशन में चार हजार रेलकर्मियों की तैनाती करने की भी योजना है। इनमें डेढ़ हजार टीटीई और पूछताछ कर्मी होंगे। 

मुरादाबाद रेलवे मंडल(उत्तर रेलव) के एडीआरएम एनएन सिंह ने बताया कि रेलवे प्रशासन की तैयारियां पूरी हैं। ट्रेनों में आरक्षण की स्थिति के हिसाब से ही ट्रेनों का संचालन किया जाएगा। इस अनुरूप अतिरिक्त कर्मियों की भी व्यवस्था की जाएगी।

यातायात व्यवस्था की तैयारी में जुटी पुलिस

कुंभ से पहले शहर में फ्लाईओवर चालू होने से मेला पुलिस अब उसी लिहाज से अगले स्नान पवरें और शाही स्नान की यातायात व्यवस्था का खाका खींचने में जुट गई है। स्नान पवरें के दौरान सामान्य यातायात फ्लाईओवर से चलता रहेगा, जबकि सर्विस लेन श्रद्धालुओं के लिए छोड़ी जा सकती है। वहीं, शाही स्नान पवरें पर फ्लाईओवर पर आवाजाही बंद भी की जा सकती है। इस बात पर भी फोकस है कि कुंभ और आम यातायात दोनों सुचारू रूप से चलते रहें। 

कुंभ मेला शुरू होने से पहले शहर को पांच फ्लाईओवर के रूप में बड़ी सौगात मिली है। तीन बड़े फ्लाईओवर चालू हो चुके हैं। दो फ्लाईओवर बहुत जल्द शुरू हो जाएंगे। कुंभ से पहले अभी तक सिर्फ मकर सक्रांति स्नान पर्व संपन्न हुआ है। स्नान पर्व के अनुभव को ध्यान में रखते हुए मेला पुलिस अब फ्लाईओवरों व नए बाईपास मार्गों के लिहाज से यातायात का प्लान तैयार कर रही है। कुंभ के सीओ यातायात प्रकाश देवली ने बताया कि कुंभ के स्नान पवरें पर फ्लाईओवर साधारण यातायात के लिए खुले रखे जाने पर विचार हो रहा है।

यह भी पढ़े- Haridwar Kumbh 2021: सीएम त्रिवेंद्र रावत बोले, दिव्य-भव्य और सुरक्षित होगा कुंभ; अधिकांश काम पूरे

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021