देहरादून, रीतिका पठानिया। करवाचौथ एक ऐसा त्योहार है, जिसे हर शादीशुदा महिला अपने पति के साथ मनाना चाहती है। लेकिन दून की कुछ ऐसी महिला पुलिस अधिकारी भी हैं, जो इस खास त्योहार वाले दिन भूखे-प्यासे रहकर व्रत तो करती ही हैं साथ ही अपनी ड्यूटी को भी पूरा करती हैं। उनका प्रयास रहता समाज सुरक्षित रहे और हर महिला अपने पति के साथ आनंदपूर्वक त्योहार मनाए। इन सबके बाद भी वह अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों को बखूबी निभाती हैं। 

शाम की पूजा में ही होगा मेरे चांद का दीदार 

एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि उनकी शादी को दस साल हो गए हैं। हर वर्ष वह करवाचौथ वाले दिन ड्यूटी पर रहती हूं। इस कारण सुबह की पूजा तो नहीं कर पाती, लेकिन शाम को चांद की पूजा के बाद अपने चांद से पति का दीदार कर व्रत खोलती हूं। वह बताती हैं कि भागदौड़ भरे दिन में अधिक मूवमेंट होने के कारण मालूम ही नहीं पड़ता कि कब व्रत पूरा हो गया है। 

एक साथ मनाएंगे करवाचौथ 

एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि उनके पति सीआईडी ऑफिसर हैं। अधिकतम समय उनकी पोस्टिंग दूसरे शहरों में होने के कारण वह साथ में करवाचौथ नहीं मना पाते। शादी के बारह सालों के बाद यह करवाचौथ उनके लिए और भी स्पेशल है, क्योंकि इस बार उनके पति भी उनके साथ होंगे। नहीं तो इससे पहले वह वीडियो कॉल के माध्यम से अपना करवाचौथ का व्रत खोलती थीं। 

यह भी पढ़ें: Karva Chauth 2019: करवाचौथ में पति भी रखेंगे व्रत, ऐसे बनाएंगे दिन को और भी खास

आपात स्थिति न हो तो घर पर होगी पूजा 

सीओ डालनवाला जया बलूनी ने बताया कि व्यस्त शेडयूल होने के कारण वह पति और घरवालों के साथ समय नहीं बिता पाती हैं। 2016 में करवाचौथ वाले दिन उनकी ड्यूटी दूसरे शहर में लगी थी। जिस कारण वह घर नहीं जा पाईं। लेकिन वैसे अन्य करवाचौथ पर यदि आपातकालीन स्थिति न हो तो वह घर पर ही पूजा करती हैं। उन्होंने बताया कि उनके पति हर साल उनके लिए सरप्राइज प्लान करते हैं। उन्हें उम्मीद है कि इस बार भी वह कुछ न कुछ स्पेशल जरूर करेंगे। 

यह भी पढ़ें: Karva Chauth 2019: करवाचौथ पर 70 सालों बाद बन रहा है ये विशेष योग, जानिए

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप