राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Election 2022 उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने उत्तराखंड में भी उत्तर प्रदेश की तर्ज पर महिलाओं को चुनाव में 40 प्रतिशत टिकट देने की पैरवी की है। इस संबंध में उन्होंने प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव, प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल और पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत को पत्र लिखा है।

पूर्व विधायक व वनाधिकार आंदोलन के संयोजक किशोर उपाध्याय ने कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव को भेजे पत्र में कहा कि कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तरप्रदेश में आगामी चुनाव में महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देने का संकल्प लिया है। उत्तराखंड में भी कांग्रेस को यही कदम उठाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि प्रियंका ने उत्तरप्रदेश में स्थानीय समुदायों को वन, जल संपदा पर उनके हक-हकूक देने का वायदा किया है। साथ में साल में तीन रसोई गैस सिलेंडर मुफ्त देने का संकल्प भी लिया है। उपाध्याय ने अन्य दलों से भी यह सुझाव स्वीकार करने की अपेक्षा की। उन्होंने कांग्रेस के साथ ही सभी विपक्षी दलों के अध्यक्षों को पत्र लिखकर उत्तराखंडियों को वनों पर हक-हकूक दिलाने का अनुरोध किया है।

हरदा नौ नवंबर को नौ संकल्प लेंगे, आम जन से मांगे सुझाव

पूर्व मुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष हरीश रावत ने राज्य स्थापना दिवस नौ नवंबर के मौके पर नौ संकल्प लेने की इच्छा जताई है। ये नौ संकल्प क्या होने चाहिए, इसके लिए उन्होंने आम जन से सुझाव भी मांगे हैं। इंटरनेट मीडिया पर अपनी पोस्ट में हरीश रावत ने कहा कि नौ नवंबर के दिन का राज्यवासियों के जीवन में विशिष्ट स्थान है।

उत्तराखंडी के नाते राज्य का व्यक्ति इस दिन कोई न कोई संकल्प जरूर लेता है। सार्वजनिक जीवन में उन्हें मुख्यमंत्री के रूप में देखने की कामना करने वाले प्रशंसक हैं तो आलोचक भी हैं। उतनी ही बड़ी संख्या समालोचकों की भी है। वह इन सभी को प्रणाम करते हैं। नौ नवंबर को प्रतिज्ञा लेने के लिए आम जन के सुझाव आमंत्रित करते हुए उन्होंने कहा कि वह प्राप्त सुझावों को प्रतिज्ञा का हिस्सा नहीं भी बना पाए तो उसे एक लेख या पुस्तक का आकार जरूर देंगे।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: भाजपा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज, शामिल होंगे सीएम धामी समेत 13 सदस्य

Edited By: Raksha Panthri