देहरादून, जेएनएन। चमोली के देवाल विकासखंड के दूरस्थ गांव तोरती के दो किशोर की बरसाती तालाब में डूबपिंडर ने से मौत हो गई। रविवार को गमगीन माहौल में पिंडर तट पर दोनों का अंतिम संस्‍कार किया गया।

  दरअसल, घटना शनिवार की है। तोरती गांव के अनिल कुमार (17) पुत्र हयात राम व विक्रम कुमार (19) पुत्र नरेंद्र लाल जंगल में गाय चुगान को गए थे। भौर गदेरे में निर्माणाधीन खेता-तोरती-रामपुर मोटर मार्ग पर डाट पुलिया के हुए खुदान से बने गड्ढ़ों में बरसाती पानी से तालाब बना है, जिसमें दोनों किशोर नहाने के लिए उतर गए।

कम पानी से गहराई का अनुमान नही लगा और तालाब के बीच पहुंचे दोनों किशोर दलदल में समा गए। साथ में गए अन्य किशोर ने तालाब में जाने से मना कर दिया जिससे उसकी जान बच गई। उसने ग्रामीणों व परिजनों को घटना की सूचना दी। जिसके बाद ग्रामीणों ने खोजबीन शुरू की, लेकिन शवों का रात नौ बजे कोई पता नही चला। थक हार ग्रामीण कुछ देर तालाब किनारे बैठे ही थे कि इतने में दो किशोरों के शव तालाब में तैरते नजर आए। जिन्हें टॉर्च  की रोशनी में निकाला और प्रशासन को इसकी सूचना दी। इसके साथ ही एसडीआरएफ की टीम भी रवाना हो गई थी, लेकिन देवाल से 30 किलोमीटर दूर तोरती गांव पहुंचने में मार्ग की स्थिति ठीक न रहने से रेस्क्यू टीम रात 11 बजे रात घटनास्थल पहुंची। 

 उपजिलाधिकारी थराली केएस नेगी के निर्देश पर तहसीलदार थराली सुदर्शन सिंह बुटोला, कानूनगो एसएस नेगी, राजस्व उपनिरीक्षक नवल किशोर मिश्र, प्रमोद नेगी, एसडीआरएफ की टीम मौके को रवाना हुई और रात 11 बजे तोरती गांव घटनास्थल पहुंची। तब तक तालाब में डूबे दोनों किशोरों के शवों को ग्रामीणों द्वारा निकाला जा चुका था।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने फिल्‍म शिक्षा कोर्स शुरू करने के दिए निर्देश

ग्रामीणों ने पोस्टमार्टम करने से किया  इनकार 

रविवार को ग्रामीणों व परिजनों ने प्रशासन की टीम को शवों का पोस्टमार्टम करने से इनकार कर दिया। जिसके बाद पंचनामा कर अंतिम संस्कार किया गया। ग्रामीणों ने बताया कि अनिल व विक्रम दोनों 11वीं पास करने के बाद इंटरमीडिएट में अध्ययनरत थे। विक्रम देहरादून रहता था जो कोविड-19 के चलते गांव आया था।

यह भी पढ़ें: पौड़ी में बनेगा वन्य जीवन से जुड़ा उत्‍तराखंड का पहला होम स्टे, पढ़िए पूरी खबर

Posted By: Sumit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस