देहरादून, जेएनएन। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शुक्रवार को दून विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ सिनेमेटिक स्टडीज की स्थापना करते हुए फिल्म शिक्षा पर कोर्स शुरू किए जाने के निर्देश दिए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने फिल्म शूटिंग की ऑनलाइन अनुमति के लिए पोर्टल का लोकार्पण भी किया। फिल्‍म शिक्षा कोर्स के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने निर्देश दिए कि विशेषज्ञों का एक वर्किंग ग्रुप बनाकर इसमें फिल्म जगत व फिल्म शिक्षा के अनुभवी लोगों को नामित किया जाए।प्रसिद्ध राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षण संस्थाओं की ओर से संचालित पाठ्यक्रमों का अध्ययन कर कोर्स डिजाइन किए जाएं। आने वाले समय में फिल्म उद्योग की मांग के अनुरूप पाठ्यक्रम और सिनेमा के विविध आयामों को समावेशित करने वाला हो।

उन्‍होंने कहा कि इसमें स्नातक डिग्री और लॉजिस्टिक प्रोडक्शन के सर्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स भी संचालित किए जा सकते हैं। 

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने फिल्म शूटिंग की ऑनलाइन अनुमति के लिए पोर्टल का शुभारंभ  भी किया। कहा कि राज्‍य में में प्रतिभाओं की कमी नहीं है, युवाओं की प्रतिभा को कैसे उजागर किया जाय, इस दिशा में कार्य करने की जरूरत है। फिल्म के क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं। उत्‍तराखंड का नैसर्गिक सौन्दर्य भी फिल्म शूटिंग के लिए अनुकूल है। फिल्म के क्षेत्र में राज्य में युवाओं को अच्छा वातावरण मिलना जरूरी है। फिल्म एजुकेशन से फिल्म जगत के विभिन्न पहलुओं की जानकारी लोगों को मिलेगी। 

यह भी पढ़ें: रैपर बादशाह के साथ सुर मिलाते नजर आएंगे पौड़ी के आशीष, दिखेगा पहाड़ी तड़का

इस दौरान महानिदेशक सूचना डॉ मेहरबान सिंह बिष्ट ने राज्य की फिल्म नीति के सबंध में प्रस्तुतिकरण दिया

बैठक में फिल्म निर्देशक विशाल भारद्वाज, प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा आनंदबर्द्धन, सचिव सूचना दिलीप जावलकर, कुलपति दून विवि डॉ. अजीत कुमार कर्नाटक, निदेशक उद्योग सुधीर नौटियाल, उपनिदेशक केएस चौहान आदि मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें: सुर ताल संग्राम में देहरादून की शिवानी प्रथम, पिथौरागढ़ की हेमा द्वितीय

Posted By: Sumit Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस