जागरण संवाददाता, देहरादून/बिहारीगढ़। दिल्ली-देहरादून हाईवे पर मोहंड के पास ओवरटेक करने के चक्कर में कार सामने से आ रही बस से भिड़ गई। जिसमें दंपती और उनकी बेटी की मौके पर मौत हो गई, जबकि उनके दो बेटे घायल हो गए। दोनों बेटों को सहारनपुर (उत्‍तर प्रदेश) एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, मगर हालत गंभीर देख दून के सिनर्जी अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। यहां एक बेटे की हालत गंभीर बनी हुई है।

देहरादून के मेहूंवाला निवासी प्रवीण चौहान (47) पत्नी मंजू चौहान (45), बेटी शिल्पी चौहान (22) और बेटे दीक्षांत (20) और निशांत (17) कार से छुटमुलपुर एक सगाई में शामिल होने के लिए जा रहे थे। इसके बाद उन्हें शिल्पी की शादी की खरीदारी करने सहारनपुर भी जाना था। सुबह नौ बजे परिवार कार से जैसे ही दून से मोहंड के पास पहुंचा, तभी किसी वाहन को ओवरटेक करने के फेर में उनकी कार सामने से आ रही बस से भिड़ गई। बताया जा रहा है कि बस देहरादून में प्रधानमंत्री की जनसभा में आ रही थी। जिसमें भाजपा कार्यकर्त्‍ता सवार थे। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। प्रवीण चौहान, मंजू और शिल्पी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दीक्षांत और निशांत गंभीर रूप से घायल हो गए। इस संबंध में सहारनपुर के एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि तीनों शवों का पोस्टमार्टम कराया गया। बस और उसके चालक को पकड़ लिया है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।

पौन घंटे जाम रहा हाईवे

हादसे के बाद दिल्ली-देहरादून हाईवे पर दोनों तरफ एक किलोमीटर लंबा जाम लग गया। करीब पौन घंटे के बाद जाम खुल पाया। बताया जा रहा है कि हादसे के वक्त दोनों वाहनों की रफ्तार काफी तेज थी।

स्वजन को ऐसे चला हादसे का पता

प्रवीण चौहान की बेटी शिल्पी की 22 जनवरी को शादी होनी थी। इसलिए घर पर पुताई का काम चल रहा है। पुताई करने वाले ने सुबह पेंट लाने के लिए प्रवीण चौहान को फोन किया, तो पता चला कि उनकी कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। इसके बाद पुताई करने वाले ने उनके स्वजन को सूचना दी।

यह भी पढ़ें:- देहरादून-हरिद्वार राजमार्ग पर रोडवेज बस की टक्कर से पलटा टेंपो, चालक की मौत; सवारियां घायल

Edited By: Sunil Negi