देहरादून, जेएनएन। एससी-एसटी इंप्लाइज फेडरेशन ने पदोन्नति एवं सीधी भर्ती में आरक्षण को लेकर आर-पार की लड़ाई का मन बना लिया है। फेडरेशन ने अन्य सहयोगी संगठनों के साथ मिलकर सलाहकार समिति का गठन किया है। जल्द ही वार्ता कर आंदोलन की रणनीति तैयार की जाएगी।

फेडरेशन की बैठक रविवार को बंजारावाला स्थित कैंप कार्यालय में हुई। बैठक में अध्यक्ष करम राम ने कहा कि राज्य सरकार कमजोर वर्ग का हक मारने में जुटी है। संविधान में प्रदत्त अधिकारों को भी नहीं दिया जा रहा है, सरकार इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट चली गई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की इस मनमानी के खिलाफ और सीधी भर्ती व पदोन्नति में आरक्षण, रोस्टर के पुनर्निर्धारण को लेकर उग्र आंदोलन किया जाएगा।

इसे लेकर अन्य सहयोगी संगठनों के अध्यक्ष एवं महासचिव को मिलाकर सलाहकार समिति बनाई गई है। जल्द ही इस समिति के पदाधिकारियों के साथ चर्चा कर आंदोलन की रणनीति बनाई जाएगी। बैठक में 30 संगठनों के पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया। इस दौरान सुबद्र्धन, जयपाल सिंह, रणवीर सिंह, चंद्रशेखर, गंभीर सिंह तोमर, राम सिंह तोमर, जितेंद्र सिंह बुटोइया, शिवलाल गौतम, मोहन लाल, डॉ. कुलदीप सिंह, डॉ. पंकज, नरेंद्र मौर्य, चंद्र सिंह ग्वाल, रविंद्र कुमार, कालू राम आदि मौजूद रहे।

इन संगठनों ने दिया समर्थन

  • एससी-एसटी शिक्षक एसोसिएशन
  • एससी-एसटी इंप्लाइज एसोसिएशन
  • एससी-एसटी सचिवालय संघ
  • अनुसूचित जनजाति कल्याण समिति
  • अखिल भारतीय ओबीसी महासभा
  • जौनसार-बाबर सेवानिवृत्त कर्मचारी मंडल
  • एससी-एसटी श्रमिक संघ परिवहन विभाग
  • विद्युत ऊर्जा आरक्षित वर्ग एसोसिएशन
  • एससी-एसटी इंप्लाइज एसोसिएशन ऑफ टैक्स
  • मूल निवासी कर्मचारी कल्याण महासंघ
  • वन विभाग एससी-एसटी अधिकारी कर्मी संघ
  • एससी-एसटी पशुपालन विभाग
  • लोनिवि एससी-एसटी इंजीनियर्स संघ
  • भारतीय दलित साहित्य अकादमी
  • शिल्पकार सभा
  • भारतीय वाल्मीकि धर्म समाज
  • अंबेडकर मिशन व फाउंडेशन
  • जौनसार-बाबर शिक्षक समिति
  • डेमोक्रेटिक राइजिंग इंप्लाइज एसोसिएशन
  • एससी-एसटी एलआइसी इंप्लाइज यूनियन
  • शिल्पकार वेलफेयर आर्गनाइजेशन
  • जौनसार-बाबर पर्वतीय जनकल्याण समिति
  • एससी-एसटी ओबीसी समिति
  • अखिल भारतीय अंबेडकर युवक संघ
  • संत शिरोमणि गुरु रविदास महासभा
  • अखिल भारतीय एससी एसटी कल्याण समिति ओएनजीसी
  • भारतीय शूद्र संघ
  • जौनसार-बाबर छात्र संघ
  • बैकलॉग संघर्ष समिति
  • अखिल भारतीय बोक्सा जनजाति विकास समिति

यह भी पढ़ें: मसूरी में पटरी व्यापारियों का हंगामा, पालिकाध्यक्ष की ओर जूता फेंकने का आरोप

 काली पट्टी बांध काम करेंगे कृषि अनुसंधान कर्मी

दिवाली पर बोनस नहीं मिलने से आक्रोशित भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के कर्मचारी मंगलवार को बांह पर काली पट्टी बांध कर विरोध-प्रदर्शन करेंगे। उनका आरोप है कि चार सालों से कर्मियों को बोनस नहीं दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: कूड़ा निस्तारण केंद्र के विरोध में अनशन व धरना कर रहे लोगों को लिया हिरासत में

कर्मचारी परिषद के प्रदेश सचिव सतविंदर भाटिया ने कहा कि सरकार के लक्ष्य को पूरा करने के लिए कर्मचारी देश के किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम कर रहे हैं, लेकिन सरकार कर्मियों की मांगों को अनदेखी कर रही है। उन्होंने कहा कि चार सालों से दिवाली पर बोनस नहीं दिया गया है। यदि इस बार भी बोनस नहीं दिया गया तो आंदोलन किया जाएगा। इस मांग को लेकर कर्मचारी परिषद के सदस्य 22 अक्टूबर को दिल्ली के जंतर मंतर में धरना-प्रदर्शन करेंगे। इस विरोध के समर्थन में देहरादून में भी कर्मचारी कौलागढ़ स्थित परिषद कार्यालय में बांह में काली पट्टी बांध विरोध-प्रदर्शन करेंगे। चेतावनी दी कि यदि मांग पूरी नहीं हुई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: एमडीडीए के नोटिसों के विरोध में व्यापारियों ने दुकान बंद रख किया प्रदर्शन Dehradun News 

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप