विकासनगर, जेएनएन। कौशल विकास एंव सेवायोजन मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि सेवायोजन कार्यालय को आउटसोर्स एजेंसी के तौर पर विकसित करने का प्रयास किया जा रहा है। हर युवा को सरकार नौकरी नहीं दी जा सकती है। युवा सरकारी नौकरियों के पीछे भागने की बजाए ग्रामीण कौशल योजना का लाभ उठाकर स्वरोजगार की दिशा में आगे बढ़ें। यह बात सोमवार को काबिना मंत्री हरक सिंह रावत ने विकासनगर के आशाराम वैदिक इंटर कॉलेज में आयोजित रोजगार मेले के शुभारंभ के दौरान कही।

विशिष्ट सेवायोजन कार्यालय जनजाति कालसी व दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के संयुक्त तत्वावधान में हुए इस कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह ने कहा कि प्रदेश व केंद्र सरकार स्वरोजगार के लिए अनेक योजनाएं चला रही हैं, जिसके तहत युवाओं को प्रशिक्षित किया जा रहा है। साथ ही स्वरोजगार के लिए मदद भी की जा रही है। उन्होंने कहा कि युवाओं को योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए।

रोजगार मेले में 943 युवाओं ने पंजीकरण कराया। जिसमें से प्रथम चरण में 360 युवाओं का चयन किया गया। 336 युवाओं का द्वितीय चरण व 247 युवाओं का अंतिम चरण में चयन किया जाएगा। कार्यक्रम में विधायक मुन्ना सिंह चौहान ने कहा कि स्वरोजगार से युवाओं को जोड़ने के लिए सरकार प्रशिक्षण कार्यक्रम चला रही है। ऐसे मेलों से युवाओं को रोजगार के बेहतर अवसर भी प्राप्त होते हैं। रोजगार मेले में 18 कंपनियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में नगर पालिका अध्यक्ष शांति जुंवाठा, सीडीओ जीएस रावत, निदेशक सेवायोजन जेएस नगन्याल, उपनिदेशक सेवायोजन चंद्रकांता, क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी अजय सिंह, विशिष्ट सेवायोजन अधिकारी लक्ष्मी यादव, सहाय सेवायोजन अधिकारी प्रवीण गोस्वामी, रोहित फत्र्याल आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: आयुष्मान योजना से लाभान्वित होंगे 18 लाख परिवार : धन सिंह रावत

यह भी पढ़ें: नए दो लाख परिवार उज्ज्वला के दायरे में, मिलेगा गैस कनेक्‍शन

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप