देहरादून, राज्य ब्यूरो। त्रिस्तरीय पंचायत (हरिद्वार को छोड़कर) के द्वितीय चरण में शुक्रवार को 31 विकासखंडों में 70.58  फीसद मतदान हुआ। हालांकि, मध्य रात्रि तक आंकड़ों का मिलान चल रहा था। ऊधमसिंहनगर जिले में सर्वाधिक 85.47 और रुद्रप्रयाग में सबसे कम 59.32 फीसद मतदान हुआ। वहीं, द्वितीय चरण का मतदान संपन्न होने के साथ ही 12094 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला मतपेटियों में बंद हो गया। छिटपुट घटनाओं को छोड़कर मतदान शांतिपूर्ण रहा। उत्तरकाशी जिले के भटवाड़ी ब्लाक के एक बूथ में पोलिंग एजेंट व मतदानकर्मियों के मध्य नोकझोंक के चलते करीब दो घंटे तक मतदान बाधित रहा। प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद मामला सुलझा और फिर वहां मतदान हुआ। दूसरी ओर, मतदान संपन्न होने के बाद देर रात से पोलिंग पार्टियों के लौटने का क्रम भी शुरू हो गया था।

पंचायत चुनाव के द्वितीय चरण में 31 विकासखंडों की 2605 ग्राम पंचायतों में शुक्रवार सुबह आठ बजे से मतदान शुरू हुआ। पहले दो घंटों में मतदान की गति कुछ धीमी रही और 10 बजे तक 12.70 फीसद लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया था। इसके बाद मतदान में तेजी आई और शाम चार बजे तक में 59.41 फीसद लोग वोट डाल चुके थे। शाम पांच बजे के बाद भी कई पोलिंग बूथों में कतारें लगी हुई थीं। उत्तरकाशी व देहरादून जिले में देर रात तक मतदान हुआ।

रात 11 बजे तक 11 जिलों से मतदान की पूर्ण सूचना राज्य निर्वाचन आयोग को उपलब्ध हो चुकी थी। अलबत्ता, देहरादून जिले की सूचना रात साढ़े बारह बजे उपलब्ध हुई। आयोग के कंट्रोल रूम ने जिला प्रशासन के हवाले से बताया कि देहरादून के सहसपुर ब्लाक में देर रात तक एक बूथ में मतदान के चलते सूचना देर में मिल पाई। आयोग के मुताबिक द्वितीय चरण में कुल 70.58 फीसद लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया। 

राज्य निर्वाचन आयुक्त चंद्रशेखर भट्ट के अनुसार द्वितीय चरण में सभी जिलों में मतदान शांतिपूर्ण रहा। कहीं से भी किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। उन्होंने बताया कि देर शाम से पोलिंग पार्टियों के लौटने का सिलसिला शुरू हो गया था। देर रात तक सभी विकासखंडों में बनाए गए स्ट्रांग रूम में मतपेटियां जमा कराई जा रही थीं।

यह भी पढ़ें: पंचायत चुनावः पांच सेक्टर मजिस्ट्रेट समेत 80 पीठासीन अधिकारी ड्यूटी से लापता 

जिलेवार मतदान

जिला, मतदान (फीसद में)

ऊधमसिंहनगर,  85.5

नैनीताल,  75.11

उत्तरकाशी, 78.36

देहरादून,  77.39

चंपावत,  64.40

रुद्रप्रयाग, 59.32

चमोली,  63.59

पिथौरागढ़,  63.04

बागेश्वर,  63.24

अल्मोड़ा, 60.12

पौड़ी,  65.02

टिहरी, 69.08

यह भी पढ़ें: उत्तरकाशी के दो गांवों को नहीं मिल पाए ग्राम प्रधान, जानिए वजह 

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस