देहरादून, जेएनएन। विद्युत पोल पर डिश केबल और इंटरनेट सेवा के लिए खींचे गए केबल के लिए अनुमति लेना अनिवार्य कर दिया गया है। सचिवालय से जारी इस आदेश को लेकर एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने केबल ऑपरेटर और इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर के साथ बैठक कर उन्हें इस व्यवस्था की जानकारी दी। साथ ही उन्होंने निर्देश दिए कि अब तक विद्युत पोलों के माध्यम से बिछाए गई केबल लाइन के बारे मे नौ नवंबर तक पूरी जानकारी पुलिस को उपलब्ध कराई जाए।

बैठक में एसएसपी ने कहा कि उच्च स्तरीय बैठक में सामने आया है कि दून के विद्युत पोलों पर बिना अनुमति के केबल लाइन का जाल बिछा दिया गया है। इससे विद्युत पोलों पर तारों के गुच्छे लटके नजर आते हैं जिससे अक्सर फाल्ट आने की शिकायतें आ रही हैं। वहीं विद्युत पोल के माध्यम से जो केबल लाइन बिछाई गई है, उसका कहीं कोई रिकार्ड नहीं है। न ही इस बात का कोई डाटा है कि केबल का उपयोग कौन और किस काम के लिए कर रहा है। ऐसे में इसका गलत इस्तेमाल होने की संभावना बनी रहती है। एसएसपी ने बताया कि इसलिए अब यह व्यवस्था बनाई गई है कि केबल बिछाने से पहले संबंधित विभाग से अनुमति लेनी होगी। वहीं केबल बिछाने वाली एजेंसियां नौ नवंबर तक अब तक बिछी केबल की समस्त जानकारी पुलिस को उपलब्ध कराए। 

विद्युत पोलों पर लटकती केबल होंगी व्यवस्थित

देहरादून शहर में बिजली के खंभों पर लटकते केबलों को व्यवस्थित किया जाएगा। ऊर्जा सचिव राधिका झा ने विभिन्न स्थानों पर इन केबल की बंचिंग के निर्देश दिए हैं। इस समस्या के समाधान को सिटी मजिस्ट्रेट, एसपी ट्रैफिक समेत कई अधिकारियों की उप समिति गठित की गई है।

शहर में बिजली के खंभों पर अनियमित तरीके से लटक रहीं केबल परेशानी का सबब बनी हुई हैं। इससे बिजली की ओवरहैड लाइनों के संचालन में भी दिक्कतें पेश आ रही हैं। इस समस्या को लेकर सोमवार को सचिवालय में ऊर्जा सचिव राधिका झा ने संबंधित महकमों के अधिकारियों व जिला प्रशासन की बैठक बुलाई थी। बैठक में तय किया गया कि बिजली खंभों पर झूलते तारों और केबल को दुरुस्त किया जाएगा। अव्यवस्थित ढंग से डाले गए केबल को व्यवस्थित करने को कार्ययोजना तैयार की जाएगी।

अल्पकालिक, मध्यकालिक और दीर्घकालिक तीन तरह से कार्ययोजना तैयार की जाएगी। अल्पकालिक योजना में राजपुर रोड, सहस्रधारा रोड, चकराता रोड, जीएमएस रोड, ईसी रोड, रायपुर रोड पर स्थित विद्युत पोलों को दीपावली से पहले पेंट कराया जाएगा। साथ में विभिन्न केबल ऑपरेटरों की ओर से डाली गई केबल्स को बंचिंग कर व्यवस्थित किया जाएगा। यह तय हुआ कि दीर्घकालिक योजना के तहत एडीबी परियोजना के अंतर्गत ओवरहैड लाइन भूमिगत किए जाने का प्रस्ताव है। विभिन्न मार्गों पर स्ट्रीट लाइट दिन में जलती पाए जाने के मामले में उनके टाइमर ठीक कराने या प्रतिस्थापित कराने को नगर आयुक्त को निर्देश दिए गए।

यह भी पढ़ें: दुपहिया पर पिछली सवारी ने हेलमेट नहीं पहना तो बस और विक्रम से भेजा घर

दून में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कार्यालय में सिटी मजिस्ट्रेट, नगर आयुक्त, पुलिस अधीक्षक ट्रैफिक, ऊर्जा निगम परिचालन निदेशक की उप समिति गठित की गई। यह उप समिति केबल ऑपरेटरों के प्रतिनिधियों से वार्ता कर समस्याओं का त्वरित समाधान करेगी। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण मोहन जोशी, नगर आयुक्त विनय शंकर पांडेय, एसपी ट्रैफिक प्रकाश चंद्र, अपर जिलाधिकारी बीर सिंह बुधियाल, ऊर्जा निगम प्रबंध निदेशक बीसीके मिश्रा, निदेशक परिचालन अतुल कुमार अग्रवाल, अधीक्षण अभियंता शैलेंद्र सिंह, मुख्य अभियंता रजनीश अग्रवाल, राज्य कर अधिकारी एसएस बिष्ट, समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

 यह भी पढ़ें: त्योहारों के मद्देनजर उत्‍तराखंड से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा पर बढ़ाई चौकसी

 

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप