देहरादून, जेएनएन। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पवन खेड़ा ने केंद्र सरकार पर प्रहार करते हुए क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी (आरसेप) को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि सरकार इस समझौते में शामिल होकर किसान, व्यापारी और छोटे उद्यमी को तबाह करने की तैयारी में है। मोदी मन की बात के बजाए मनमोहन की बात सुनते तो आज देश आर्थिक संकट से नहीं गुजरता।

रविवार को देहरादून स्थित प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा कि 45 साल बाद देश में बेरोजगारी का आंकड़ा चरम पर है। उन्होंने कहा कि आरसेप के प्रभावी होने से देश में गोवंश पर भी असर पड़ेगा। दूध के लिए देश की निर्भरता न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया पर बढ़ जाएगी। पवन खेड़ा ने कहा कि देश में औद्योगिक घाटा बढ़ने से कंपनियां बंद हो रही हैं, लेकिन सत्ता के गलियारों में दखल रखने वाले कुछ खास लोगो की कंपनियां हजारों करोड़ का मुनाफा कमा रही हैं। 

पवन खेड़ा का ये भी कहना है कि मोदी सरकार धन बल के सहारे देश के गंभीर मुद्दों को दबाने का काम कर रही है। आज बैंकों में भी लोगों का धन सुरक्षित नहीं है। उन्होंने आरोप लगाया कि खोखले व छदम राष्ट्रवाद से मोदी सरकार देश को गुमराह कर रही है। 

यह भी पढ़ें: पिथौरागढ़ उपचुनाव: महेंद्र सिंह माहरा पर दांव खेल सकती है कांग्रेस

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप