देहरादून, राज्य ब्यूरो। पिथौरागढ़ विधानसभा सीट पर उपचुनाव लड़ने से पूर्व विधायक मयूख महर के इन्कार से कांग्रेस ने नए प्रत्याशी की तलाश तेज कर दी है। चुनाव लड़ने के इच्छुक दावेदारों के विकल्प पर मंथन किया जा रहा है। पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह माहरा पर भी पार्टी दांव खेल सकती है।

पिथौरागढ़ विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस के पूर्व विधायक मयूख महर की पकड़ मजबूत मानी जाती है। महर पिछला विधानसभा चुनाव दिवंगत काबीना मंत्री प्रकाश पंत से मामूली मतों के अंतर से हारे थे। यही वजह रही कि इस सीट पर उपचुनाव में पार्टी मयूख महर के जरिए भाजपा को तगड़ी चुनौती देने के मंसूबे बांधे हुए थी। महर को चुनाव लड़ने के लिए मनाने में प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पूरी ताकत झोंकी। 

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने उन्हें मनाने की भरसक कोशिश की। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने तो मयूख को पिथौरागढ़ सीट पर सर्वोत्तम उम्मीदवार करार देते हुए यह उम्मीद भी जताई थी कि वह उनका अनुरोध नहीं टालेंगे। प्रदेश कांग्रेस कमेटी को दो दिन की मोहलत देने के बाद मयूख महर ने चुनाव लड़ने से साफ इन्कार कर दिया है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने इसकी पुष्टि की। हालांकि उन्होंने दोहराया कि महर के उपचुनाव लड़ने का विकल्प खुला हुआ है। 

यह भी पढ़ें: क्षेत्र पंचायत चुनाव: सहसपुर में निर्विरोध चुने गए ब्लॉक प्रमुख Dehradun News

पार्टी ने इस सीट पर अब अन्य दावेदारों के नामों पर विचार शुरू कर दिया है। पूर्व मंत्री महेंद्र सिंह माहरा व प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी समेत अन्य नेताओं ने भी दावेदारी पेश की है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक पार्टी महेंद्र सिंह माहरा को भी चुनाव मैदान में उतार सकती है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रत्याशी का चयन पिथौरागढ़ क्षेत्र की जनता की पसंद से किया जाएगा। इसके लिए पार्टी के वरिष्ठ नेता क्षेत्र का दौरा करेंगे। पूर्व विधायक मयूख महर समेत अन्य नेताओं से विचार-विमर्श कर प्रत्याशी का चयन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: रुड़की नगर निगम चुनाव, बसपा ने पूर्व सांसद राजेंद्र बाडी पर खेला दांव

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप