जागरण संवाददाता, देहरादून : सहायता प्राप्त अशासकीय कॉलेज शिक्षकों को सरकार की ओर से आंशिक राहत मिली है। शासन ने कॉलेज शिक्षकों व शिक्षणेत्तर कर्मचारियों की जनवरी माह की वेतन जारी कर दी है हालांकि अभी दिसंबर महीने की रूकी हुई वेतन नहीं दी गई है। पिछले दिनों हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल केंद्रीय विवि शिक्षक संघ ग्रूटा के पदाधिकारियों ने उच्च शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. धन सिंह रावत से भेंट की और रूके दो महीने का वेतन जारी करने का आग्रह किया।

डॉ.धन सिंह रावत ने आश्वासन दिया कि उनका वेतन जारी कर दिया जाएगा। ग्रूट के अध्यक्ष प्रो. वीपी सिंह ने कहा कि शासन ने जनवरी 2021 की वेतन तो जारी कर दी है लेकिन दिसंबर 2020 की वेतन अभी तक नहीं दी है। अब फरवरी महीने का वेतन भी देना होगा। विदित रहे कि संबद्धता को लेकर सहायता प्राप्त अशासकीय कॉलेज व सरकार के बीच लंबे समय से तनातनी चल रही है। पिछले दिनों शिक्षकों ने गांधी पार्क में धरना-प्रदर्शन भी किया। जिसके बाद सरकार ने और कड़ा रुख अख्तियार कर दिया। इस बीच उच्च शिक्षा निदेशक डॉ.कुमकुम रौतेला ने प्रदर्शन करने वाले शिक्षकों पर कड़ी कार्रवाई की बात कर शिक्षकों को परेशानी में डाल दिया। शासन की ओर से अशासकीय तीन कॉलेजों के 27 शिक्षकों पर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने का पत्र जारी किया।

यह भी पढ़ें- Haridwar Kumbh 2021: कुंभ मेले के लिए एसओपी जारी, पंजीकरण अनिवार्य; इन बातों का भी रखें ध्यान

इसके बाद शिक्षकों का प्रतिनिधिमंडल उच्च शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ.धन सिंह रावत से मिला और अपनी समस्याएं रखी। शिक्षा मंत्री ने आंदोलन की राह छोड़कर सरकार का सहयोग करने की नसीहत दी। कॉलेज शिक्षकों का कहना है कि शासन जल्द ही रूकी हुई सैलरी भी जारी करे।

यह भी पढ़ें-थल सेना की जनरल ड्यूटी लिखित परीक्षा तकनीकी कारणों से स्थगित, मायूस लौटे हजारों युवा

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप