जागरण संवाददाता, देहरादून। इस बार रामनवमी और विजयादशमी के बाद वीकेंड पड़ने से एक साथ चार छुट्टियां मिलेंगी। ऐसे में मसूरी और नैनीताल में पर्यटकों का हुजूम उमड़ना तय है। इस कड़ी में यहां 70 फीसद होटल-गेस्ट हाउस बुक भी हो चुके हैं। इससे होटल, रेस्टोरेंट संचालकों के साथ पर्यटक स्थलों के दुकानदार खासे उत्साहित हैं। पर्यटकों का हुजूम उमड़ने पर हर बार की तरह मसूरी-नैनीताल में जाम का झाम भी रहेगा। इसको देखते हुए पुलिस और प्रशासन ने तैयारी शुरू कर दी है। भीड़ और यातायात को नियंत्रित करने के लिए पुख्ता इंतजाम का दावा किया जा रहा है।

मसूरी के मुख्य पर्यटक स्थल

आज यानी गुरुवार को रामनवमी और फिर शुक्रवार को विजयादशमी (दशहरा) की छुट्टी रहेगी। इसके बाद वीकेंड है। ऐसे में बड़ी संख्या में लोग मसूरी घूमने आएंगे। इस दरमियान मुख्य पर्यटक स्थलों में शुमार भट्ठा फाल, कंपनी गार्डन, जार्ज एवरेस्ट, गनहिल, लालटिब्बा, चार दुकान, कैम्पटी फाल, यमुना ब्रिज, बुरांशखंडा, धनोल्टी, काणाताल आदि में अच्छी चहल-पहल रहने का अनुमान है।

बुकिंग का आंकड़ा 100 फीसद पर पहुंचने की संभावना

गुरुवार तक यहां होटल-गेस्ट हाउस में बुकिंग का आंकड़ा 100 फीसद पर पहुंचने की संभावना है। इसको देखते हुए मसूरी कोतवाली पुलिस भी यातायात के सुचारू संचालन के लिए व्यवस्था बनाने में जुटी है। मसूरी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक गिरीश चंद्र शर्मा ने बताया कि छुट्टियों में मसूरी में पर्यटकों की भीड़ उमड़ने की संभावना को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस बल के रूप में दो प्लाटून पीएसी, दस ट्रैफिक कांस्टेबल, दो हाक व एक क्रेन की मांग की गई है। साथ ही दो दिन के लिए एमडीडीए की पार्किंग पुलिस को देने का आग्रह किया गया है।

उत्तराखंड होटल एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप साहनी ने बताया कि मसूरी में 350 से अधिक होटल, गेस्ट हाउस और धर्मशाला हैं। इनमें लगभग आठ हजार कमरे हैं और करीब 25 हजार पर्यटकों के ठहरने की क्षमता है। अधिकांश होटल-गेस्ट हाउस में बुधवार शाम तक 70 फीसद बुकिंग हो चुकी है। पर्यटकों की आमद बढ़ने की स्थिति में सबसे ज्यादा दबाव यातायात और पार्किंग व्यवस्था पर पड़ता है।

मसूरी में यह रहेगी यातायात व्यवस्था

मसूरी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक गिरीश चंद्र शर्मा ने बताया कि यातायात का दबाव बढ़ने पर कैम्पटी की ओर जाने वाले वाहनों को गज्जी बैंड से हाथीपांव की ओर डायवर्ट किया जाएगा। जबकि, धनोल्टी जाने वाले वाहनों को जेपी बैंड से सुवाखोली-बाटाघाटकी ओर डायवर्ट किया जाएगा। हाथीपांव में भी पुलिस तैनात रहेगी। लाइब्रेरी बाजार और मालरोड में लगने वाले जाम से बचने के लिए सड़क पर वाहन नहीं खड़े होने दिए जाएंगे।

नैनीताल में जोर पकड़ेगा पर्यटन

सरोवर नगरी नैनीताल में भी अधिकतर होटल पैक हो गए हैं। कुमाऊं मंडल विकास निगम (केएमवीएन) के नैनीताल समेत मुक्तेश्वर, बिनसर, रानीखेत, कौसानी और नौकुचियाताल के गेस्ट हाउस भी फुल हो चुके हैं। पुलिस प्रशासन ने भीड़ बढ़ने पर त्रिस्तरीय यातायात योजना तैयार की है। प्रमुख मार्गों पर यातायात का दबाव बढ़ने पर रूट डायवर्ट भी किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें:-Tourist Spot In Uttarakhand: वीकेंड को बनाना है खास और नहीं की है प्लानिंग तो टेंशन की क्या बात, आएं इस बेहतरीन जगह

Edited By: Sunil Negi