जागरण संवाददाता, देहरादून। बेरोजगार युवाओं के लिए अच्छी खबर है। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने पटवारी के 366 व लेखपाल के 147 रिक्त पदों के लिए भर्ती परीक्षा की विज्ञप्ति जारी कर दी है। पात्र अभ्यर्थियों को आनलाइन आवेदन करना होगा। यह पद जिला संवर्ग के हैं, लेकिन आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों को जिले का विकल्प देने की जरूरत नहीं है। जिले का विकल्प लिखित परीक्षा के बाद मेरिट के आधार पर लिया जाएगा।

उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के सचिव संतोष बडोनी ने बताया कि अभ्यर्थियों को आयोग की वेबसाइट (www.sssc.uk.gov.in) पर वन टाइम रजिस्ट्रेशन (ओटीआर) करना अनिवार्य है। जिन अभ्यर्थियों ने ओटीआर नहीं भरा है, वह आवेदन पत्र भरने से पहले ओटीआर भरें। वन टाइम रजिस्ट्रेशन में अभ्यर्थी को अपने बारे में संपूर्ण शैक्षिक विवरण भरना होगा। इसे भरते समय पूरी सावधानी जरूरी है। यदि कोई अभ्यर्थी अपने विवरण में परिवर्तन करना चाहता है तो पहले ओटीआर को संशोधित करें, उसके बाद आवेदन पत्र भरें।

पटवारी पद के लिए अभ्यर्थी की आयु 21 से 28 वर्ष व लेखपाल पद के लिए 21 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। शैक्षिक योग्यता स्नातक रखी गई है। सामान्य वर्ग के छात्र के लिए आवेदन शुल्क तीन सौ रुपये है। जबकि अनुसूचित जाति, जनजाति के लिए 150 रुपये शुल्क देना होगा। आयोग के सचिव ने बताया कि लिखित परीक्षा आनलाइन या आफलाइन किसी भी माध्यम से कराई जा सकती है। चयन लिखित परीक्षा व शारीरिक दक्षता परीक्षण दोनों में पास होने पर मेरिट के आधार पर किया जाएगा। उन्होंने बताया कि लिखित परीक्षा दो घंटे की होगी। जिसमें 100 वस्तुनिष्ठ प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे। पटवारी व लेखपाल दोनों पदों के लिए नियमानुसार आरक्षण लागू होगा।

महत्वपूर्ण तिथियां

-आनलाइन आवेदन 22 जून से।

-आवेदन की अंतिम तिथि पांच अगस्त।

-शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि सात अगस्त।

-लिखित परीक्षा संभावित- नवंबर माह।

पटवारी पद के लिए शारीरिक दक्षता

पुरुष अभ्यर्थी को साठ मिनट में सात किलोमीटर और महिला अभ्यर्थी को 35 मिनट में साढ़े तीन किलोमीटर दौड़ना होगा।

लेखपाल पद के लिए शारीरिक दक्षता

पुरुष अभ्यर्थी को साठ मिनट में नौ किलोमीटर और महिला अभ्यर्थी को 35 मिनट में साढ़े चार किलोमीटर दौड़ना होगा।

यहां से ले सकते हैं जानकारी

अगर किसी अभ्यर्थी को भर्ती से संबंधित कोई जानकारी चाहिए तो वह उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग को ई-मेल chayanayog@gmail.com के जरिये पूछ सकते हैं।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: आज भी रोजगार से नहीं जुड़ सका योग, पांच साल पहले की गई थी ये घोषणा

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Raksha Panthri