विकासनगर (देहरादून), जेएनएन। कोतवाली विकासनगर पुलिस ने डाकपत्थर की विशाल कॉलोनी से हिस्ट्रीशीटर को पत्नी के साथ स्मैक तस्करी करते गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से पुलिस ने कुल 25 ग्राम स्मैक व एक लाख साठ हजार रुपये की नगदी बरामद की। नगदी आरोपितों ने स्मैक बेचकर अर्जित की थी। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया।

मादक पदार्थ की तस्करी की रोकथाम को चलाए जा रहे ऑपरेशन सत्य अभियान के चलते पुलिस क्षेत्राधिकारी डीएस रावत के नेतृत्व में कोतवाली पुलिस की टीम क्षेत्र में जगह-जगह चेकिंग कर रही थी। सोमवार को डाकपत्थर चौकी प्रभारी कुंदन राम को सूचना मिली कि हिस्ट्रीशीटर व उसकी पत्नी स्मैक तस्करी कर रहे हैं और विशाल कॉलोनी की तरफ हैं। जिस पर पुलिस टीम ने हिस्ट्रीशीटर बुर्हान पुत्र मोहम्मद इमरान व काफिया पत्नी बुर्हान निवासी विशाल कॉलोनी नेहरू मार्किट डाकपत्थर को 25 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार कर लिया।

यह भी पढ़ें: आइपीएल के मैचों पर ऑनलाइन सट्टेबाजी कर रहे अजय जायसवाल और उसके गिरोह पर लगा गैंगस्टर

पुलिस ने हिस्ट्रीशीटर बुर्हान से 15 ग्राम स्मैक, 90 हजार रुपये नगद, एक इलेक्ट्रॉनिक तराजू व उसकी पत्नी काफिया से 10 ग्राम अवैध स्मैक और 70 हजार रुपये नगद बरामद किए। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया। आरोपित सहारनपुर जिले के मिर्जापुर आदि क्षेत्रों से स्मैक लेकर आते थे और पछवादून में श्रमिकों, छात्रों, वाहन चालकों को महंगे दाम पर बेचते थे। उधर, कोतवाल राजीव रौथान के अनुसार हिस्ट्रीशीटर बुर्हान के खिलाफ वर्ष 2012 से अब तक चोरी, आर्म्‍स एक्ट आदि के आठ मुकदमे पहले से दर्ज हैं। हिस्ट्रीशीटर पूर्व में भी चोरी व अन्य अपराध में कई बार जेल जा चुका है। नशा तस्करों के नेटवर्क को तोड़ने के लिए अभियान और तेज किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: पुलिस से बचने के लिए कबाड़ी बाजार में कटवा दी कार, ऐसे खुला मामला