देहरादून, जेएनएन।  हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर के शिक्षक दंपति के बेटे जीसी अर्जुन ठाकुर को आइएमए के सर्वोच्च सम्मान स्वार्ड ऑफ ऑनर से सम्मान से नवाजा गया। अर्जुन के अफसर बनने से पिता के सपने पूरे हो गए। इस पर परिजनों ने अर्जुन के साथ खूब खुशी मनाई। 

भारतीय सैन्य अकादमी की पासिंग आउट परेड में अर्जुन ठाकुर को गोल्ड मेडल के साथ सर्वोच्च सम्मान स्वार्ड ऑफ ऑनर भी मिला है। अर्जुन घर के इकलौते बेटे हैं। उनके पिता यशमीर सिंह अंग्रेजी और मां सुनीता विज्ञान की शिक्षिका हैं।

यशमीर का कहना था कि दो दशक पूर्व वह भी सेना में अफसर बनने के लिए सैनिक स्कूल कपूरथला पंजाब में भर्ती हुए थे, लेकिन सेना में अफसर बनने की बजाए शिक्षक बन गए। अब बेटा अफसर बने तो पिता का सपना भी पूरा हो गया। हालांकि उनका कहना था कि पिता यानि अर्जुन के दादा स्व.जैसीराम सेना में थे। बेटे को सेना में जाने की प्रेरणा उन्हीं से मिली। 

यह भी पढ़ें: देश को मिले 347 युवा सैन्य अफसर, मित्र देशों के 80 कैडेट भी हुए पास आउट

यह भी पढ़ें: उप सेना प्रमुख बोले, दुश्मन ने नापाक हरकत की तो फिर होगी सर्जिकल स्ट्राइक

Posted By: Sunil Negi