देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड सचिवालय में तैनात समीक्षा अधिकारी से जालसाजों ने साठ हजार रुपये की ठगी कर ली। आरोप है कि जालसाज ने उनके बैंक अकाउंट को हैक कर उससे लिंक मोबाइल नंबर को भी बदल दिया, जिससे ट्रांजेक्शन के एसएमएस आने बंद हो गए हैं। मामले में नगर कोतवाली पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

समीक्षा अधिकारी निशा मिश्रा ने पुलिस को बताया कि बीते 29 अक्टूबर को उनके बेटे ने कुछ सामान ऑनलाइन बुक कराया। इसके कुछ देर बाद ही उसके पास फोन आया कि अगर वह गूगल पे से पेमेंट कर दे, तो सामान की डिलीवरी दो घंटे में हो जाएगी। इसके लिए तैयार होने पर शख्स ने एक लिंक भेजा। इसके बाद उनके खाते से जुड़े ई-मेल अकाउंट और यूपीआइ पिन के बारे में जानकारी मांगी गई। 

कुछ देर बाद पेमेंट के दौरान शख्स का फिर से फोन आया। उसने यूपीआइ के पिन की जगह कोई भी छह अंक डालने को कहा, लेकिन ट्रांजेक्शन कैंसिल हो गया। इस पर शख्स ने कई बार फोन कर अकाउंट के संबंध में जानकारी लेने की कोशिश की, लेकिन फिर उन्होंने उसे कोई जानकारी नहीं दी।

यह भी पढ़ें: कमेटी ठगी में ज्वैलर्स के खिलाफ तीसरा मुकदमा दर्ज Dehradun News

इसके बाद सात नवंबर को निशा कार में पेट्रोल भरवाने गईं, जब उन्होंने पेमेंट किया, तो उन्हें ट्रांजेक्शन का कोई एसएमएस नहीं आया। उन्होंने इसके बारे में जानकारी जुटाई तो पता चला कि उनके खाते से 60 हजार रुपये की निकासी हो चुकी है। एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें: साइबर ठगी में वोडाफोन कर्मी समेत तीन लोग गिरफ्तार Dehradun News

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस