जागरण संवाददाता, देहरादून। Dehradun Crime News पीटने, जान से मारने की धमकी देने, बलवा, तोड़फोड़ करने के विभिन्न मामलों में फरार चल रहे केशव अस्पताल के संचालक शाह आलम सहित चार के खिलाफ नेहरू कालोनी थाना पुलिस ने गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की है।

इंस्पेक्टर नेहरू कालोनी सतबीर बिष्ट ने बताया कि आरोपित शाह आलम निवासी रक्षा विहार अधोईवाला (केशव अस्पताल का संचालक) गिरोह का गैंग लीडर है। आरोपित अपने अस्पताल को लोकप्रिय बनाने के उद्देश्य से अन्य निजी अस्पताल के संचालकों व कर्मचारियों सहित अन्य व्यक्तियों को पीट चुका है।

आरोपित के खिलाफ विभिन्न थानों में पांच मुकदमे दर्ज हैं। इसके अलावा शाह आलम के साथी एजाज निवासी मखियाली खुर्द लक्सर हरिद्वार के खिलाफ दो, शाकिब निवासी एमडीडीए कालोनी मोहिनी रोड डालनवाला के खिलाफ दो और मोहित चौधरी निवासी शेरपुर झबरेड़ा हरिद्वार के खिलाफ विभिन्न थानों में दो मुकदमे दर्ज हैं। 31 अगस्त को गिरोह के सदस्यों ने अजबपुर खुर्द स्थित हेल्थकेयर अस्पताल के सुरक्षाकर्मी पर फायर कर अस्पताल में तोड़फोड़ की थी। गिरोह के चारों सदस्य फरार चल रहे हैं।

उन्होंने बताया कि आरोपितों के खिलाफ गैंगस्टर के तहत कार्रवाई की गई है। एक सितंबर को नेहरू कालोनी में दर्ज मुकदमे में अब तक आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई। डीजीपी के निर्देश पर एसएसपी जन्मेजय खंडूड़ी ने मामले में लापरवाही बरतने पर एक दारोगा को निलंबित कर दिया है। मामले की जांच इंस्पेक्टर सतबीर बिष्ट को सौंपी गई है।

एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने बताया कि अस्पताल में तोड़फोड़ की जांच नेहरू कालोनी के इंस्पेक्टर को सौंपी गई है। जांच में लापरवाही पर एक दारोगा को निलंबित किया गया है। मामले में गैंगस्टर की कार्रवाई पहले ही होनी थी लेकिन इसी बीच थाने के इंस्पेक्टर का तबादला हो गया।।

पार्क में बना रहे थे डकैती की योजना, धरे गए

क्लेमेनटाउन क्षेत्र में डकैती की योजना बना रहे छह बदमाशों को क्लेमेनटाउन थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इनमें एक हिस्ट्रीशीटर भी शामिल है। थानाध्यक्ष धर्मेद्र रौतेला ने बताया कि गुरुवार रात पुलिस टीम क्षेत्र में गश्त कर रही थी। इसी दौरान कुछ व्यक्ति प्रकृति विहार स्थित एक खाली पार्क में बैठे मिले। पुलिस ने उनकी तलाशी ली तो उनके पास दो खुखरी, एक टार्च, दो बड़े पेचकस, दो आरी, एक हथौड़ी, एक छेनी मिली।

उनकी पहचान शोएब निवासी कुठला नवादा नेहरू कालोनी, फिरोज निवासी महबूब कालोनी ब्राह्मणवाला पटेलनगर, मोहम्मद आरिफ, शहजाद, शाहरूख और जैद चारों निवासी छोटा भारूवाला क्लेमेनटाउन के रूप में हुई है। आरोपितों से दो खुखरी, एक टार्च, दो बड़े पेचकस, दो आरी, एक हथौड़ी, एक छेनी बरामद किए गए हैं। आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

शोएब के खिलाफ पांच मुकदमे

थानाध्यक्ष ने बताया कि गिरोह का मास्टर माइंड हिस्ट्रीशीटर शोएब है। उसके खिलाफ नेहरू कालोनी व डालनवाला कोतवाली में पांच केस दर्ज हैं। फिरोज के खिलाफ पटेलनगर कोतवाली में दो, शहजाद के खिलाफ क्लेमेनटाउन थाना में दो, शाहरूख के खिलाफ पटेलनगर कोतवाली व क्लेमेनटाउन थाना में तीन और आरिफ के खिलाफ पटेलनगर कोतवाली में एक मुकदमा दर्ज है।

यह भी पढ़ें- हरिद्वार: युवक ने स्टेटस पर लगाई किसान महापंचायत की फोटो, भाजपा नेता पर लगा गाली-गलौज का आरोप

Edited By: Raksha Panthri