जागरण संवाददाता, देहरादून: किसी और व्यक्ति को प्लाट का मालिक बताकर लाखों रुपये हड़पने के मामले में प्रेमनगर थाना पुलिस ने सात लोग के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

पीड़ित ने पुलिस को दी तहरीर

इंस्पेक्टर प्रदीप बिष्ट ने बताया कि प्रेमनगर के रहने वाले वीरेंद्र सिंह ने तहरीर देकर बताया कि उनकी ठाकुरपुर रोड पर दुकान व प्लाट है। 24 सितंबर को उनके पास कौलागढ़ निवासी ऋषि चौहान आया और उनके प्लाट से लगता हुआ एक प्लाट दिखाया।

प्लाट खरीदने की हामी भरी

व्यक्ति ने कहा कि यह प्लाट बिकाऊ है और उसके जानने वाले अजय कुमार ने इसे खरीद रखा है। ऋषि चौहान की बातों में आकर वीरेंद्र सिंह ने प्लाट खरीदने की हामी भरी। ऋषि चौहान एक अजय कुमार निवासी गोहान जौली, सोनीपत, हरियाणा को लेकर आया और कहा कि अजय कुमार के प्लाट का अनुबंध प्लाट के मूल स्वामी संजीव कुमार गुप्ता से हुआ है।

65 लाख रुपये में हुआ प्लाट का सौदा

अजय कुमार को प्लाट को बेचने का अधिकार है। आरोपित अजय कुमार ने 23 सितंबर का एक अनुबंध पत्र भी दिखाया। प्लाट का सौदा 65 लाख रुपये में हुआ। 21 अक्टूबर को ऋषि चौहान, अजय कुमार व उनके साथ साथी अनिल कुमार उर्फ पहलवान, चंदन, रिजवी, संजीव गुप्ता आए और फर्जी संजीव कुमार गुप्ता को खड़ा कर वीरेंद्र सिंह से एडवांस में 27 लाख रुपये ले लिए।

बाउंड्री बनाने पर चला ठगी का पता

शिकायतकर्ता ने बताया कि जब प्लाट पर बाउंड्री बनाने के लिए काम करवाना शुरू किया तो पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि यह प्लाट तो डा. संजीव कुमार गुप्ता का है, जिन्होंने अपना प्लाट नहीं बेचा है। पीड़ित ने आरोपितों से संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। ठगी का पता चलने पर उन्होंने पुलिस से शिकायत की।

यह भी पढ़ें:Udham Singh Nagar News:UP बॉर्डर पर पुलिस को देख 2 महिलाओं ने लगाई उल्टे पांव दौड़, पकड़ी गईं तो हुआ ये खुलासा

Edited By: Sunil Negi

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट