देहरादून, जेएनएन। कोरोना महामारी से उपजी विषम परिस्थितियों के कारण उत्तराखंड के सबसे प्रतिष्ठित और पुराने क्रिकेट टूर्नामेट में से एक गोल्ड कप के आयोजन पर इस बार संकट के बादल मंडराते नजर आ रहे हैं। आमतौर पर हर वर्ष मई में होने वाले टूर्नामेट को लेकर इस बार कोई सुगबुगाहट तक नहीं है। 

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) के पदाधिकारी भी टूर्नामेट के आयोजन को लेकर आश्वस्त नहीं हैं। हालात जल्द नहीं सुधरे तो इस बार प्रदेश के क्रिकेट प्रेमियों को निराश भी होना पड़ सकता है। 

उत्तराखंड में ऑल इंडिया उत्तराखंड गोल्ड कप क्रिकेट टूर्नामेट का आयोजन वर्ष 1985 से हो रहा है। इस बार 38वां टूर्नामेट होना है। लेकिन, अब तक इसकी रूप रेखा तैयार नहीं हो सकी है। जिसकी वजह देश में तेजी से पैर पसार रहा कोरोना संक्रमण है। उस पर प्रवासियों के लौटने से उत्तराखंड में एकाएक बढ़ी संक्रमण की रफ्तार ने चिंता और बढ़ा दी है। 

यही वजह है कि सीएयू के पदाधिकारी भी टूर्नामेट के आयोजन को लेकर फिलहाल स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कह पा रहे। टूर्नामेट को लेकर सीएयू के सामने सबसे बड़ी परेशानी इन विषम हालात में टीमों को ठहराने व अन्य व्यवस्था करने की भी है। जल्द कोरोना पर काबू नहीं पाया गया तो इस आशंका से भी इन्कार नहीं किया जा सकता कि इस बार गोल्ड कप देखने को न मिले। 

इस बार बड़े स्तर पर होना था आयोजन 

सीयूए को पिछले साल ही बीसीसीआइ से पूर्ण मान्यता मिली है। इस खुशी में इस बार गोल्ड कप को बड़े स्तर पर आयोजित करने का निर्णय लिया गया था। सीएयू की अपैक्स काउंसिल की दूसरी बैठक में तय किया गया था कि 2020 में गोल्ड कप को नई कमेटी आयोजित करेगी। सीएयू इसके आयोजन में सहयोग देगी। 

किसी भी टीम ने नहीं किया संपर्क 

इस बार अब तक किसी भी राज्य की टीम ने गोल्ड कप के आयोजन को लेकर रुचि नहीं दिखाई है। पूर्व में इस समय तक इस टूर्नामेट में प्रतिभाग के लिए सभी इच्छुक टीमें अपनी उपस्थिति दर्ज करा देती थीं।

यह भी पढ़ें: ऑनलाइन वुशु चैंपियनशिप में खिलाड़ी दिखाएंगे प्रतिभा, ट्रायल प्रक्रिया शुरू

खिलाड़ियों और स्टाफ के रहने की व्यवस्था संभव नहीं 

क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव महिम वर्मा के मुताबिक, सरकार ने स्टेडियम खोलने की अनुमति दे दी है। अगर खाली स्टेडियम में मैच कराए भी जाएं तो टीमों के खिलाड़ियों व उनके स्टाफ के साथ ऑफीशियल के ठहरने की व्यवस्था अभी सम्भव नहीं है। ऐसे में अभी गोल्ड कप के आयोजन को लेकर कुछ नहीं कहा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: बीसीसीआइ में भी चर्चा में आया सीएयू, पेमेंट मामले में लिया संज्ञान

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस