देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड में कोरोना का छठा मामला सामने आया है। देहरादून में यह पांचवा मामला है। युवक हाल ही में दुबई से लौटा था। बीते दिनों लक्षणों के आधार पर उसका सैंपल जांच के लिए भेजा था। शनिवरा को युवक में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। युवक को दून अस्पताल के आइसोलेशन में भर्ती किया गया है। 

प्रदेश में अब तक छह मामलों में कोरोना की पुष्टि हुई है, जिनमें इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वन अकादमी का एक प्रशिक्षु आइएफएस ठीक हो गया है। उसे शुक्रवार को दून अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। जबकि अन्य में भर्ती अन्य दो प्रशिक्षु आइएफएस की हालिया रिपोर्ट भी निगेटिव आयी है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की गाइडलाइन के अनुसार अब इनका सैंपल पुन: जांच के लिए भेजा गया है। 

दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद इन्हें भी अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी, जबकि एक अमरीकी नागरिक का दून अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं स्पेन से लौटे दुगड्डा निवासी एक युवक में भी कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इधर, शनिवार को दून के सेलाकुई निवासी एक 21 वर्षीय युवक में कोरोना की पुष्टि हुई। स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार युवक 18 मार्च को दुबई से लौटा है। 

तबीयत खराब होने पर वह पटेलनगर स्थित श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में पहुंचा था। प्रारंभिक लक्षणों के आधार पर 26 मार्च को उसका सैंपल जांच को भेजा गया। आज उसमें कोरोना की पुष्टि हुई है। युवक को दून अस्पताल के आइसोलेशन में भर्ती किया गया है। 

यह भी पढ़ें: Coronavirus: दिल्ली में फंसे उत्तराखंडियों के लिए सरकार ने जारी किए 50 लाख

एसएमआइ अस्पताल के दस कर्मचारी क्वारंटाइन 

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में कोरोना संक्रमित युवक के संपर्क में आए दस कर्मचारियों को होम क्वारंटाइन किया गया है। इनमें रजिस्ट्रेशन काउंटर पर युवक का ओपीडी कार्ड बनाने वाला कर्मचारी, तीन एक्स-रे टेक्नीशियन और फार्मेसी के छह कर्मचारी शामिल हैं।यह सभी वह लोग हैं जो प्रत्यक्ष रूप से उसके संपर्क में आए। इसके अलावा संपर्क में आए अन्य लोगों को भी अस्पताल प्रशासन चिन्हित करने में जुटा है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: कोरोना से लड़ने को उत्तराखंड सरकार ने झोंकी ताकत, हर जिले में एक कोविड अस्पताल

 

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस